अभी-अभी: रक्षाबंधन पर उत्तराखंड सरकार का बड़ा तोहफा, किया ये बडा ऐलान

देहरादून : रक्षाबंधन पर उत्तराखंड रोडवेज बसों में महिलाएं राज्य के भीतर निशुल्क यात्रा कर सकेंगी। इस संबंध में शासन ने आदेश जारी कर दिया है और प्रबंध निदेशक को कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।

राज्य सरकार कई वर्षों से रक्षाबंधन पर बहनों को रोडवेज की बसों में निशुल्क यात्रा की सुविधा देती आई है। इस बार कोविड-19 महामारी और लॉकडाउन के बाद निगम की आर्थिक स्थिति बेहद खराब है। इस कारण शासन स्तर पर काफी विचार विमर्श के बाद रक्षाबंधन पर निशुल्क यात्रा का फैसला लिया गया ताकि बहनें अपने भाइयों के घर जाकर पर्व मना सकें।
सचिव परिवहन शैलेश बगौली ने शुक्रवार को आदेश जारी कर दिया। इस संबंध में निगम के प्रबंध निदेशक को कार्रवाई करने के लिए कहा गया है। यात्रा के दौरान महिलाओं व बहनों से बसों में कोई किराया नहीं लिया जाएगा। इसका पूरा खर्च शासन वहन करेगा।

इस सप्ताह शनिवार और रविवार को खुले रहेंगे चारों जिले
इस सप्ताह शनिवार और रविवार को उत्तराखंड के चार जिलों, देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल और ऊधमसिंह नगर में साप्ताहिक बंदी नहीं होगी। देहरादून में बकरीद और रक्षाबंधन को देखते हुए जिला प्रशासन ने यह निर्णय लिया है।

डीएम ने बताया कि जिले में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए शनिवार और रविवार को लॉकडाउन रखने का निर्णय लिया गया था। लेकिन, शनिवार को बकरीद और सोमवार को रक्षाबंधन का पर्व है। जिसे देखते हुए इस बार दो दिन का लॉकडाउन नहीं किया जाएगा।

हालांकि लॉकडाउन के नियम पहले की तरह ही लागू रहेंगे। लोगों का मास्क लगाना अनिवार्य होगा। वहीं, बाजार में दुकानों के बाहर भीड़ नहीं लगेगी। लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। अगर कोई व्यक्ति लॉकडाउन के नियमों का पालन नहीं करता है।

या फिर किसी दुकान के बाहर भीड़ दिखती है तो उनके खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी।  साथ ही उन्होंने कोरोना संक्रमण को देखते हुए लोगों से घर में ही रहने की अपील की। कहा कि बच्चे और बुजुर्ग किसी भी सूरत में घर से बाहर न निकलें।

big news

loading…