गैंगवार में गोलियों से भूने गए कुख्यात परमवीर तुगाना की मौत, मारी गई थी पांच गोलियां


बागपत। बागपत जनपद के कूड़ी गांव में हुए हमले में घायल पचास हजार के इनामी रहे कुख्यात परमवीर तुगाना की इलाज के दौरान मौत हो गई। परमवीर का गुरुग्राम के वेदांता अस्पताल में इलाज चल रहा था। परमवीर पर हमले में कुख्यात सुनील राठी के ममेरे भाई समेत छह नामजद समेत १३ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था। जिला पंचायत चुनाव की रंजिश में वारदात अंजाम दी गई थी।
वेस्ट यूपी के शातिर अपराधियों में शामिल रहे परमवीर तुगाना पर कूड़ी गांव में उस समय हमला हुआ था, जब वह एक घर के चबूतरे पर बैठा हुआ था। फायरिंग में पांच लोग घायल हुए थे। बड़ौत के नर्सिंग होम से मेरठ रेफर किया गया, इसके बाद परमवीर को गुरुग्राम के वेदांता हॉस्पिटल रेफर किया गया था। इलाज के दौरान उसका घुटने से नीचे से पैर काटना पड़ा था। सोमवार को इलाज के दौरान परमवीर की मौत हो गई।