मेरठ में कोरोना का कहर, पीएसी जवानों के परिजन भी निकले पॉजिटिव, 349 हुई मरीजों की संख्या

मेरठ। मेरठ जिले में आज तीसरी बार संपूर्ण लॉकडाउन किया गया है। वहीं कोरोना के बुधवार को तीन नए मरीज मिले हैं। ये मरीज पूर्व में संक्रमित आए छठी वाहिनी के पीएसी जवानों के परिवार वाले हैं। सीएमओ डॉ. राजकुमार ने बताया कि बुधवार को करीब 223 सैंपलों की जांच की गई थी, जिनमें तीन मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। नए मरीजों में 50 साल की महिला, 28 और 32 साल के दो युवक हैं। ये तीनों 14 मई को पॉजिटिव आए कोरोना संक्रमित पीएसी जवान के परिजन हैं। पीएसी का यह जवान 13 मई को संक्रमित आए जवानों के संपर्क में था, जिसकी ड्यूटी नवीन मंडी में थी। 
इसके अलावा एक अन्य जवान का रिपीट सैंपल था जिसे सोमवार को निजी लैब से कोरोना की पुष्टि हुई थी। उनका सैंपल मेडिकल की लैब में भी भेजा गया था, जिसके बाद बुधवार को वह भी पॉजिटिव आया है। नतीजन अभी नवीन मंडी की चेन तोड़ी नहीं जा सकी है। वहीं मंगलवार को कोरोना पॉजिटिव आए एक व्यक्ति का नाम सूची में नहीं जुड़ सका था, उसे बुधवार को जोड़ा गया है जिस कारण अब कुल कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 349 हो गई है।मेडिकल कॉलेज में बुधवार रात 38 वर्षीय एक महिला की भी मौत हो गई। वह कोरोना संदिग्ध वार्ड में भर्ती थी। मवाना की रहने वाली इस महिला की कोरोना रिपोर्ट हालांकि नेगेटिव आई। अब उसका शव उसके परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है। प्राचार्य डॉ. एसके गर्ग ने इसकी पुष्टि की। आज फिर और संपूर्ण लॉकडाउन जिले में आज तीसरी बार संपूर्ण लॉकडाउन किया गया है। सप्ताह में दो दिन सोमवार और गुरुवार को डीएम ने संपूर्ण लॉकडाउन का फैसला लिया था, जिसे कोरोना की चेन को तोड़ा जा सके।
इस दौरान सिर्फ दवा, दूध, पेट्रोल पंप, बैंक (इंटरनल कार्य के लिए) खुलेंगे इसके अलावा सभी कुछ बंद रहेगा। लॉकडाउन 4.0 की जारी सरकार की गाइडलाइन में भी शहर को कोई राहत नहीं दी गई है। हालांकि सरधना में जरूर दुकानें खोलने की अनुमति दी है। शहर के कंटेनमेंट जोन होने से अभी इस पर चर्चा चल रही है कि दुकानें किस तरह खोलने की अनुमति दी जाए। हालांकि इस बार राज्यों को रेड ग्रीन और ऑरेंज जिलों में निर्धारण करने की छूट दी है। फिलहाल मेरठ रेड जोन में ही शामिल रहेगा। इसलिए अभी कोई छूट यहां नहीं दी जा रही। रेलवे रोड क्षेत्र की कैसर गंज मंडी में खरखौदा के अतराडा को नया हॉटस्पॉट बनाया गया है। यहां दो-दो मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं। जिले में 51 हॉटस्पॉट हो गए हैं। वहीं जिले में हॉटस्पॉट भी ग्रीन जोन में बदले जा रहे हैं। बुधवार को डीएम ने दो हॉटस्पॉट इलाकों को ग्रीन जोन में बदलते हुए सील खोलने के आदेश दिए। इसमें 263/7 जेल चुंगी और खरखोदा ब्लॉक का गांव खवासपुर शामिल हैं। इन इलाकों में लॉकडाउन की शर्तें लागू रहेंगी।

loading…