अभी अभीः यूपी में स्कूल फीस को लेकर आई बडी खबर, जानकर झूम उठेंगे आप

प्रयागराज। कोरोना संक्रमण की देशव्यापी आपदा के बावजूद प्राइवेट स्कूलों में पूरी फीस वसूलने और इसके लिए अभिभावकों पर दबाव डालने के खिलाफ इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई है। याचिका पर गुरुवार को सुनवाई शुरू हुई। याचिका दायर करने वाले लोगों ने अपील की है कि जब तक हाईकोर्ट कोई फैसला नहीं दे देता, स्कूलों की फीस को अभिभावक जमा न करें।

अधिवक्ता सुशांत चंद्रा और आदर्श भूषण की ओर से दाखिल याचिका में कहा गया है कि राज्य सरकार के स्पष्ट निर्देशों के बावजूद कई निजी स्कूल अभिभावकों पर अप्रैल माह की पूरी फीस जमा करने के लिए दबाव बना रहे हैं। स्कूलों की ओर से लगातार यह मैसेज भेजा जा रहा है कि छात्रध्छात्रा का दाखिला स्कूल में जारी रखने के लिए फीस जमा करें। याचिका में एक स्कूल से भेजे गए मैसेज का हवाला भी दिया गया है। याचिका में कहा गया है कि कोरोना संक्रमण के कारण लोगों के व्यापार और काम धंधे बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं। लोगों की आमदनी काफी कम हो गई है। कर्मचारियों के वेतन में भी कटौती हो रही है। ऐसी स्थिति में स्कूलों को सिर्फ जरूरत भर की ही फीस लेनी चाहिए। याचिका में बढ़ी फीस कम करने और फीस जमा करने की अवधि बढ़ाने की मांग की गई है।

loading…