यूपी में महंगे होगे शराब और डीजल-पेट्रोल, जानिए क्या है तैयारी

लखनऊ। कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते ठप पड़ी अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए राहत की कई घोषणा के बाद योगी सरकार कुछ कड़े फैसले भी कर सकती है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में बुधवार को प्रदेश कैबिनेट की बैठक होगी। इसमें पेट्रोल और डीजल के वैट में वृद्धि के साथ शराब की कीमतें भी 30 से 40 प्रतिशत तक बढ़ाने पर फैसला हो सकता है। प्रदेश कैबिनेट की बैठक मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पांच कालिदास मार्ग पर दोपहर 12 बजे प्रस्तावित है। इसमें वे मंत्री ही शामिल होंगे, जिनके विभाग से जुड़े विषय एजेंडा का हिस्सा हैं।
अन्य मंत्री कैबिनेट बैठक से ऑनलाइन जुड़ेंगे। बैठक में कोरोना योद्धाओं की सुरक्षा के लिए एपेडमिक एक्ट में संशोधन संबंधी अध्यादेश के मसौदे को मंजूरी मिल सकती है। इसमें स्वास्थ्य कर्मियों के अलावा स्वच्छता कर्मी, पुलिस व सरकार द्वारा नामित अन्य कार्मिकों को केंद्र की तर्ज पर सुरक्षा देने के लिए कड़ा प्रावधान है। सूत्रों के अनुसार, पेट्रोल की वैट दरों में दो रुपये और डीजल में एक रुपये की वृद्धि हो सकती है। हालांकि वाणिज्यकर विभाग ने पेट्रोल पर 1.26 रुपये प्रति लीटर से 2.26 रुपये प्रति लीटर व डीजल पर 1.09 रुपये से 2.09 रुपये प्रति लीटर वैट बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है। सरकार राजस्व बढ़ाने के लिए दिल्ली व कुछ अन्य राज्य सरकारों के फॉर्मूले पर कोरोना शुल्क लगाकर शराब की कीमतों में 30 से 40 फीसदी तक की वृद्धि की जा सकती है।

loading…