राजस्थान: नम आंखों के साथ एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई का अंतिम संस्कार

रायसिंहनगर: श्रीगंगानगर के रायसिंहनगर में राजकीय सम्मान के साथ एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई का अंतिम संस्कार किया गया. पार्थिव देह के साथ राजगढ़ से आए पुलिस जवानों की आंखें नम हो गई. अंतिम विदाई में हजारों की संख्या में क्षेत्र के लोग पहुंचे. विष्णुदत्त विश्नोई के गांव में शोक की लहर छाई हुई है. गांव में भी दो दिन से चूल्हा नहीं जला है. इससे पहले SHO विष्णुदत्त की पार्थिव देह लूणेवाला लाई गई. विष्णुदत्त की अंतिम यात्रा गांव की गलियों से रवाना हुई. करीब एक किलोमीटर तक लोग अंतिम यात्रा में शामिल हुए. जिलेभर के पुलिस अधिकारी और जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे.

सादुलपुर SHO विष्णुदत्त विश्नोई को श्रीगंगानगर में जगह-जगह लोगों ने श्रद्धांजलि दी. पार्थिव देह पर राजियासर से जैतसर,रायसिंहनगर तक की पुष्पवर्षा की गई. लोगों ने नम आंखों से श्रद्धांजलि दी. लोगों ने जब तक सूरज-चांद रहेगा विष्णुदत्त विश्नोई तेरा नाम रहेगा जैसे नारे लगाते हुए नम आंखों से भावभिनी श्रद्धांजलि अर्पित की.

सादुलपुर SHO विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या प्रकरण की CBI जांच करवाने की मांग गई. अलग-अलग संस्थाओं ने ज्ञापन सौंपकर सीबीआई जांच की मांग की. सरपंच मोहिनी देवी ने SHO को ज्ञापन सौंपा. राजस्थान ब्राह्मण महासभा ने SHO को ज्ञापन सौंपा. विश्नोई समाज के लोगों ने SDM कार्यालय में ज्ञापन सौंपकर सीबीआई जांच की मांग की. निष्पक्ष जांच करवाकर दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की मांग की.

चूरू जिले के सादुलपुर थानाधिकारी विष्णुदत्त बिश्नोई ने शनिवार को आत्महत्या कर ली. जानकारी के अनुसार विश्नोई ने अपने क्वार्टर में फांसी का फंदा लगाकर जीवनलीला समाप्त की है. हालांकि आत्महत्या के कारणों का अभी कोई पता नहीं चला है. वहीं पुलिस अधिकारी अभी कुछ भी बोलने से दूरी बना रहे हैं. बता दें कि बिश्नोई ईमानदार ऑफिसर के साथ पुलिस विभाग में दबंग छवि व बेहद जबांज ऑफिसर थे.

loading…