अभी-अभीः मुजफ्फरनगर में जमकर हंगामा, भाजपा नेता गिरफ्तार, भारी फोर्स पहुंची, देखें वीडियो और तस्वीरें


मुजफ्फरनगर। जनपद के कस्बा सिसौली में आज महज पेड से कुछ आम तोडने को लेकर जबरदस्त हंगामा मचा। घंटों चले हंगामे के बाद कस्बे के बडे भाजपा नेता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, जबकि भाजपा नेता सहित करीब एक दर्जन लोगां के खिलाफ खुद भौराकलॉ थानाध्यक्ष द्वारा मुकदमा दर्ज कराया गया है। रालोद नेताओं ने पुलिस कार्यवाही को दमनात्मक करार दिया है।


प्राप्त जानकारी के मुताबिक सिसौली में होली चौक पर अपने समर्थकों के साथ भौराकलां पुलिस के खिलाफ धरने पर बैठे भाजपा के नेता नितिन बालियान को भौराकलां पुलिस ने पूरी तैयारी के साथ पहुंचकर घेराबंदी करने के बाद गिरफ्तार कर लिया। इससे पूर्व रविवार की देर सायं गिरफ्तार भाजपा कार्यकर्ता उसके भाई व अन्य व्यक्ति के खिलाफ पुलिस ने अपहरण समेत पुलिस से धक्कामुक्की व सरकारी कार्य में बाधा डालने की गंभीर धाराओं में मामला दर्ज कर लिया था।

गिरफ्तार भाजपा नेता ने अपनी गिरफ्तारी के लिए भाजपा विधायक उमेश मलिक पर आरोप लगाए है, लेकिन विधायक उमेश मलिक ने इस मामले में आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि उनका इस प्रकरण से कोई लेना-देना नहीं है। उन्हें तो इस पूरे मामले की जानकारी भी आज दोपहर बाद मिली। बताया जा रहा है कि कस्बा सिसौली निवासी जगमेहर पुत्र भोपाल सिंह के पेड़ से गिरे आम को गांव के हरबीर कश्यप द्वारा चुग लिया गया। इसकी जानकारी जगमेहर को को हुई तो वह हरबीर के घर पहुंच गए और पेड़ से आम तोड़ने का आरोप लगाया। इसके बाद जगमेहर व भाजपा नेता नितिन बालियान हरबीर कश्यप को उसके घर से अपने घर फैसले के लिए ले गए।

उधर हरबीर के पुत्र ने अपने पिता को ले जाते देखकर भौराकलां थानाध्यक्ष को फोन से सूचना दी। सूचना मिलने पर भौराकलां थानाध्यक्ष वीरेंद्र कसाना जगमेहर के मकान पर फोर्स लेकर पहुंचे और हरबीर कश्यप के बारे में जानकारी की। हरबीर उन्हें वहीं मिला। भौराकलां थानाध्यक्ष हरबीर को मुक्त कराकर अपने साथ ले जाना चाहते थे लेकिन जगमेहर व नितिन बालियान ने हरबीर को नही ले जाने दिया। थानाध्यक्ष वीरेन्द्र कसाना ने अपने द्वारा दर्ज कराई गई एफआईआर में कहा है कि नितिन बालियान व अन्य पुलिस के साथ फसाद पर आमादा हो गए। भौराकलां थानाध्यक्ष वीरेंद्र कसाना ने अपनी ओर से जगमेहर पुत्र भौपाल के साथ ही भाजपा नेता नितिन बालियान व उसके भाई सचिन के खिलाफ नामजद व 8-10 अज्ञात के खिलाफ आईपीसी की धारा 364, 452, 506, 504, 332, 353, 147, 342, 188 और आपराधिक कानून संशोधन अधिनियम की धारा 7, आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 56, महामारी अधिनियम 1897 की धारा 3 के अंतर्गत मामला दर्ज कर लिया। भौराकलां पुलिस ने रात में भाजपा नेता नितिन बालियान के यहां दबिश दी। हालांकि वह अपने घर पर नही मिले, पर दबिश से राजनीति गर्मा गई। भाजपा नेता नितिन बालियान ने सोशल मीडिया पर भाजपा विधायक उमेश मलिक पर ही अपने घर दबिश दिलाने का आरोप लगाया। उन्होंने सुबह नामजद जगमेहर व अन्य समर्थकों के साथ सिसौली में होली चौक पर भोराकलां पुलिस के खिलाफ धरना देना शुरू कर दिया। इसकी खबर लगते ही भौराकलां पुलिस आसपास के थानों की पुलिस के साथ वहां पहुंची और धरने के बीच से ही भाजपा नेता नितिन बालियान को गिरफ्तार कर लिया। भाजपा विधायक उमेश मलिक ने सिसौली में नितिन बालियान की गिरफ्तारी में खुद पर लगाए गए आरोपों को निराधारा बताते हुए कहा कि उनका इस प्रकरण से कोई लेना-देना नहीं है। उन्हें तो इस प्रकरण की जानकारी भी आज दोपहर बाद हुई। बताया जा रहा है कि नितिन बालियान की मां सिसौली चेयरमैन पद पर निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड चुकी है। नितिन सोशल मीडिया पर लगातार विधायक उमेश मलिक के खिलाफ पोस्ट डालता रहता था, मगर विधायक ने इस बारे में कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। उधर, रालोद नेता सुधीर भारतीय ने इस मामले में विरोध प्रदर्शित करते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखी है।

loading…