शामली शुगर मिल बंद, अरबों के भुगतान के इंतजार में किसान

शामली। शहर की अपर दोआब शुगर मिल का पेराई सत्र वर्ष 2019-20 का समापन हो गया है। शामली शुगर मिल द्वारा इस वर्ष एक करोड 20 लाख 14269 क्विंटल गन्ना किसानों से लिया गया है, जबकि थानाभवन व ऊन शुगर मिल इससे पूर्व ही बंद हो चुकी है। जनपद की तीनों शुगर मिले बंद हो चुकी है, लेकिन किसानों का अभी भी करीब करोडों रूपये का बकाया भुगतान है।
जिले की शामली, थानाभवन तथा ޺ऊन शुगर मिलों का पेराई सत्र वर्ष 2019-20 का समापन हो गया है। गत शनिवार देर रात्रि करीब साढे 11 बजे शामली शुगर मिल का भी पेराई सत्र समाप्त हो गया, जबकि जनपद शामली में स्थापित तीनो चीनी मिलों द्वारा समस्त किसनों का समस्त पेराई योग्य गन्ना खरीद कर पेराई सत्र 2019-20 का समापन किया गया है। ऊन शुगर मिल गत 20 मई एवं थानाभवन शुगर मिल के सत्र का गत 30 को समापन हो गया था। शामली शुगर मिल द्वारा इस सत्र में किसानों से एक करोड 20 लाख, 14269 कुंटल तथा 24 किलो गन्ना खरीदा गया है। अतिरिक्त महाप्रबंधक गन्ना विभाग नरेश कुमार ने बताया कि रात्रि करीब साढे 11 बजे शुगर मिल के पेराई सत्र का समापन किया गया है। इस बार शुगर मिल में कई बार तकनीकी खराबी आने से किसानों तथा शहर के लोगों को भार दिक्कतों का सामना करना पडा है। जिसमें सभी का सहयोग मिला है। शामली शुगर मिल द्वारा गत वर्ष 25 दिसंबर तक का भुगतान कर दिया गया है और अगले सप्ताह जल्द की किसानों का भुगतान किया जायेगा।

loading…