मुजफ्फरनगर के युवक की सऊदी अरब में कोरोना से मौत, शव के लिए दर-दर भटक रही पत्नी


मुजफ्फरनगर। करीब ढाई माह से एक महिला अपने चार बच्चों को साथ लेकर अपने मृत पति के शव के लिए दर दर भटक रही है। परेशान होकर पीडित महिला अपने बच्चों को साथ डीएम ऑफिस पर फरियाद लेकर पहुंची। पीड़िता ने डीएम को ज्ञापन देकर इंसाफ की गुहार लगाई है।
बुधवार को जिलाधिकारी कार्यालय पहुंची पीडित महिला आरती ने बताया कि उसके पति धर्मेन्द्र कुमार पुत्र भोपाल करीब 3 वर्ष से रियाद सऊदी अरब में इलैक्ट्रिशियन के पद पर नौकरी करते थे। शुगर व कोविड -19 से 23 जून को मृत्यु हो गयी । अभी भी उनका शव सऊदी अरब में ही रखा हुआ है। आरती ने बताया कि उसके पति का शव सउदी सरकार ने अभी तक अंतिम संस्कार नहीं किया है और ना ही इसे वापस भेजा है। महिला ने अपने पति के अंतिम संस्कार के लिये पावर आफ एटॉनी द्वारा शादाब अहमद पुत्र मुश्तक को सभी कागज भेज दिये है, लेकिन सरकार ने अभी उसके पति का अंतिम संस्कार नहीं किया है और उसके पति की बकाया सैलरी भी कम्पनी मालिक ने नहीं दी है। महिला ने डीएम से मांग करते हुए कहा कि सउदी सरकार से उसके पति का अंतिम संस्कार कराया जाये और कम्पनी मालिक से बकाया सैलरी दिलाई जाये। इस संबंध पीडित ने एक ज्ञापन डीएम को सौंपा।

Trending Posts

loading…