अभी-अभीः मुजफ्फरनगर में कवाल के पांच युवक निकले कोरोना पॉजिटिव, मचा हडकंप

मुजफ्फरनगर। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कोरोना को खतरा टलता नहीं दिख रहा है। रविवार को शामली बिजनौर व सहारनपुर जिलों में नया मरीज सामने आने से थोड़ी राहत जरूर मिली है लेकिन मुजफ्फरनगर में छह नए कोरोना पॉजिटिव मिलने से स्वास्थ्य विभाग की टेंशन फिर से बढ़ गई है। वहीं कल ईद को लेकर पुलिस प्रशासन ने कमर कस ली है। पुलिस लोगों से घरों में रहकर ही नमाज अदा करने की अपील कर रही है।
मुजफ्फरनगर जिले में आज छह नए कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें तमिलनाडू से आए पांच प्रवासी श्रमिक हैं, जबकि एक 83 वर्षीया महिला है। डीएम सेल्वा कुमारी जे ने जानकारी दी कि श्रमिकों को किसान इंटर कॉलेज ककरौली में क्वारंटीन किया गया था। सभी मजदूर जानसठ थाना क्षेत्र के चर्चित गांव कवाल के निवासी है। यह मजदूर तमिलनाडू रोजी-रोटी कमाने गए थे, वहां से वापस लौटने के बाद इन्हें ककरौली स्थित इंटर कॉलेज में क्वारंटीन किया गया था। कोरोना पॉजिटिव पाई गई महिला शहर के रामपुरम की निवासी है। परिजन उसे जिला अस्पताल में डायलिसिस के लिए लेकर आए थे। जांच में उसके कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई। जिले में अब तक 46 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं। इनमें 22 सक्रिय हैं जबकि 24 ठीक हो चुके हैं।
लॉकडाउन को लेकर रविवार को प्रशासन ने सुबह दस बजे से शाम चार बजे तक बाजार खोलने की अनुमति दी। ईद का पर्व सोमवार को होने के कारण आज मुस्लिम समाज के लोगों ने जमकर खरीदारी की। कपड़े और फुटवियर की दुकानों पर दिन भर भीड़ रही। बाजार में भारी आवाजाही को लेकर अधिकारी गश्त पर रहे। उधर, कसबो में भी सभी बाजार खुले। लोगों ने ईद की खरीदारी की। श्रमिकों के बाहरी प्रांत से आने का सिलसिला जारी रहा।

loading…