मुजफ्फरनगर में पहली बार ईद पर सुनसान पडी रही ईदगाह, मुस्लिमों ने दिखाया गजब का जज्बा, घरों में पढी नमाज, देखें वीडियो

मुजफ्फरनगर। कोरोना का कहर इस बार ईद-उल-फितर की खुशियों पर भी बरसा। कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए केंद्र-प्रदेश सरकार तथा जिला प्रशासन की अपील पर इस बार मुस्लिम समाज के लोगों ने अपने घरों में ही ईद की नमाज अदा की। पूरे जिले में सिर्फ कस्बा खतौली के एक स्थान पर ही सामूहिक नमाज अदा करने का मामला सामने आया, जिसपर पुलिस कार्यवाही कर रही है। लॉकडाउन का असर इस बार ईद के त्यौहार पर भी दिखाई दिया। पहली बार ईद पर ईदगाह सुनसान पड़ी रही और लोगों ने अपने घरों में नमाज अदा की। जिलाधिकारी तथा एसएसपी पुलिस तथा प्रशासनिक अधिकारियों तथा भारी फोर्स के साथ ईदगाह पर मौजूद रहकर हालात पर नजर बनाए रहे। लोगों के दिलों को खुशियों से भर देने वाले ईद के त्यौहार पर इस बार लोगों का उत्साह काफी कम देखने के लिए मिला।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक जनपद में आज ईद उल फितर का त्योहार खुशियों के साथ मनाया गया। हालांकि इस बार त्यौहार की उमंग तथा उत्साह में पिछले सालों जैसी बात नहीं रही। शामली रोड पर स्थित शहर की ईदगाह इस बार सुनसान पड़ी रही। लॉकडाउन तथा कोरोना के कहर के मद्देनजर जिला प्रशासन द्वारा की गई अपील का लोगों पर असर दिखाई पड़ा और लोगों ने अपने घरों में ही ईद की नमाज अदा की। एक दूसरे से गले मिलने तथा एक-दूसरे के यहां आने-जाने की बजाय लोगों ने फोन पर ही एक दूसरे को ईद की मुबारकबाद पेश की। जिला प्रशासन ने आज ईद के मद्देनजर ड्रोन कैमरो से शहर के विभिन्न क्षेत्रों कि निगरानी की। कोरोना वायरस महामारी का संकट पूरे देश मे देखने को मिल रहा है और उसी के चलते सम्पूर्ण देश मे लॉकडॉउन लगा हुआ है। जिला प्रशासन ने गाइडलाइन जारी की है कि कोई भी सामूहिक आयोजन ना किया जाए और सोशल डिस्टेंसिंग का विशेषकर ध्यान रखा जाए। आज ईद के त्यौहार के मददेनजर जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे व एसएसपी अभिषेक यादव ने पुलिस फोर्स के साथ विभिन्न जगहों का भ्रमण किया और ड्रोन कैमरो से गली मोहल्ले व मकान की छतों पर पैनी नजर गड़ाए रखी कि कहीं कोई सामूहिक रूप से इकट्ठा न हो, लेकिन जिला प्रशासन को कहीं भी सामूहिक रूप से इकट्ठा हुए लोगों की शिकायत नहीं मिली। सभी ने सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए ईद का त्योहार मनाया। वैश्विक महामारी के चलते जनपद मुजफ्फरनगर में मुस्लिम समाज के लोगों ने अपने अपने घरों में ही ईद की नमाज अदा की। आपको बता दें कि वैश्विक महामारी के चलते जिला प्रशासन ने जनपद के समस्त मुस्लिम समाज के लोगों से अपील की थी कि सभी लोग करोना संक्रमण से बचने के लिए ईदगाह व मस्जिदों में ना जाकर अपने अपने घरों में ही ईद की नमाज को अदा करें, जिससे इस महामारी का संक्रमण किसी को अपनी चपेट में ना ले सके। मौलाना नाजिम कासमी ने कहा कि सरकार के दिशा-निर्देशों तथा सोशल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए समस्त मुस्लिम समाज के लोगों ने अपने-अपने घरों में ही ईद की नमाज को अदा किया और देश व दुनिया में फैली इस महामारी को खत्म करने के लिए अपने रब से दुआ मांगी।
जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव, एसपी सिटी सतपाल अंतिल सहित बड़ी संख्या में पुलिस तथा प्रशासनिक विभाग के अधिकारी ईदगाह पर मौजूद रहकर हालात पर नजर बनाए रहे। इस दौरान शहर की सड़कें लगभग सुनसान पड़ी रही। पुलिस ने अनावश्यक रूप से सड़कों पर घूमने वाले लोगों की जमकर खबर ली। ईद के त्यौहार के चलते आज शहर के अधिकतर बाजार भी बंद रहे।
नीचे क्लिक कर देखें वीडियो