बडी खुशखबरीः कोरोनामुक्त हुआ जिला मुजफ्फरनगर, नहीं रहा कोई मरीज

मुजफ्फरनगर। जनपद के लिए आज की सुबह बडी खुशखबरी लेकर आई है। स्वास्थ्य विभाग तथा जिला प्रशासन की दिनरात की मेहनत के चलते जनपद में अब कोरोना का कोई भी मरीज नहीं रह गया है। जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने खुद टवीट कर इसकी जानकारी दी।
जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने आज दोपहर ट्वीट कर बताया कि जनपद में आज आई 91 कोरोना टेस्ट के लिए भेजे गए सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। साथ ही जिले के बेगरजपुर मेडिकल कॉलेज में भर्ती एकमात्र कोरोना मरीज भी पूरी तरह स्वस्थ्य हो गया है। अब जिले में कोई भी करोना मरीज नहीं रह गया है। जिला प्रशासन, पुलिस तथा स्वास्थ्य विभाग द्वारा संयुक्त रूप से की गई मेहनत के चलते जिले ने कोरोना को मात दे दी है।
आसपास के जनपदों में तेजी से मिल रहे कोरोना संक्रमण के मामलों के बीच मुजफ्फरनगर के निवासियों के लिए पिछले सप्ताह से लगातार राहत भरी खबर आ रही है। जिले में कोई नया कोरोना केस सामने नहीं आया है। साथ ही जांच का दायरा बढ़ने से भी राहत मिली है। रोजाना 100 से 150 तक जांच रिपोर्ट जिले को प्राप्त हो रही हैं। ऐसी ही स्थिति बनी रहे तो जिला रेड जोन से बाहर आ सकता है। मेरठ, सहारनपुर, बिजनौर और शामली में आए दिन नए कोरोना रोगी सामने आ रहे हैं। इन जिलों से मुजफ्फरनगर घिरा हुआ है। जनपद में अब तक कुल 24 कोरोना संक्रमित सामने आए, जो सभी ठीक हो चुके हैं। जनपद में आखिरी कोरोना संक्रमित चार मई को सामने आया था। उसके भी गाजियाबाद व मेरठ में रहते हुए संक्रमित होने की आशंका जताई गई थी। इसके बाद कोई नया केस सामने नहीं आना जिले के लिए राहत की बात है। लॉकडाउन-3 से पहले हुई समीक्षा में जिले में अधिक केस सामने आने के कारण इसे रेड जोन में शामिल किया गया था, लेकिन अब स्थिति काफी सुधरी है। बदले हालात में मुजफ्फरनगर के ग्रीन जोन में जाने की पूरी उम्मीद है। इसके साथ ही जनपद में अन्य कई गतिविधियों को भी छूट मिल सकती है।

loading…