सीएम योगी ने शामली को दी बडी सौगात, 100 बैड के कोविड हॉस्पिटल का किया उद्घाटन


शामली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को शामली के नवनिर्मित 100 बैंड वाले जिला संयुक्त चिकित्सालय और एल-1 व एल-2 कोविड चिकित्सालय का लखनऊ से ऑन लाईन शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होने अधिकारियों को संबोधित करते हुए मरीजों को बेहतर सुविधा प्रदान करने तथा चिकित्सकों द्वारा मधुर व्यावहार करने के निर्देश दिये है।
बुधवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ से शामली के नवनिर्मित जिला अस्पताल व एल-1 तथा एल-2 का शुभारंभ किया। शामली कलक्ट्रेट एनआईसी में लोकार्पण का सीधा प्रसारण किया। जहां सहारनपुर मुडल के कमिश्नर संजय कुमार, जिलाधिकारी जसजीत कौर, कैराना सांसद प्रदीप चौधरी, एमएलसी विरेन्द्र सिंह, एडीएम अरविन्द कुमार तथा सीएमओ डा. संजय भटनागर शामिल रहे। इस दौरान उन्होने ऑन लाईन शुभारंभ करते हुए अधिकारियों से अस्पताल में दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में जाना। उन्होने कहा कि मरीजों को हॉस्पिटल में बेहतर सुविधाऐं प्रदान की जाये और चिकित्सकों द्वारा मधुर व्यावहार किया जाये। उन्होने कोरोना संक्रमित मरीजों को भी बेहतर उपचार देने के निर्देश दिये, ताकि समय रहते उनकी जान बचाई जा सके। इसके बाद सहारनपुर मंडल के कमिश्नर ने अधिकारियों की बैठक को संबोधित किया। जिसमें उन्होने कहा कि जिला अस्पताल में नई टैक्नोलोनी की मशीने प्रदान की गई है, जहां हर प्रकार का उपचार दिया जा सकेगा। अब गंभीर मरीजों को दूसरे जनपदों में रेफर करने के बजाये शामली में ही उपचार मिल सकेगा, जो जनपद शामली के लोगों के लिए एक बडी खुशखबरी है। उन्होने अधिकारियों को निर्देशित किया कि अब स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेदारी और अधिक बढ गई है। पहले गंभीर चोटिल व गंभीर बीमार लोगों को मुजफ्फरनगर, मेरठ, सहारनपुर रेफर किया जाता था, लेकिन अब शामली में ही उनको उपचार मिलेगा। उन्होने कहा कि कोविड अस्पताल में एक नोडल अधिकारी की नियुक्ति की जाये, ताकि मरीजों को दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में समय समय पर जांच की जा सके। उन्होने कोरोना से मरने वाले मरीजों की मौत की जांच करने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि यदि किसी मरीज की मृत्यु होती है तो उसके परिजनों से भी बात की जाये ताकि पता चल सके कि किसी की कोई लापरवाही तो नही रही। उन्होने शासना द्वारा कोरोना मरीजों को दी जाने वाली दवाईयों को भी समय समय पर दिए जाने के निर्देश दिये ताकि कोरोना पर काबू किया जा सके। इस दौरान कैराना सांसद प्रदीप चौधरी ने चिकित्सकों द्वारा पहनी जाने वाली पीपीई किट में डॉक्टरों को होने वाली परेशानी का मुददा उठाया। उन्होने कहा कि कोरोना के मरीज को उपचार देने वाले चिकित्सक पीपीई किट पहनते है, जिसमें उनका दम घुटता है, जिससे उनको काफी परेशानी का सामना करना पडता है। जिस पर कमिश्नर ने स्टाफ रूम में एसी लगाए जाने के निर्देश दिये।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा बुधवार को ऑन लाईन जिला अस्पताल का शुभारंभ किया। जिसके बाद सहारनपुर मंडल कमिश्नर ने कैराना सांसद प्रदीप चौधरी व एमएलसी विरेन्द्र सिंह को साथ लेकर जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होने महिला वार्ड, पुरूष वार्ड, आईसीयू, इमरजेंसी वार्ड में पहुंचकर मरीजों को दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में जाना। उन्होने पूरे हॉस्पिटल परिसर को सैनेटाईज करने तथा प्रवेश द्वार पर सैनेटाईजर मशीन लगाए जाने के निर्देश दिये।
बुधवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा 100 बैड के जिला अस्पताल का ऑन लाईन शुभारंभ करने के बाद सहारनपुर मंडल के कमिश्नर संजय कुमार ने जिला अस्पताल पहुंचकर, एल-1 व एल-2 यूनिट का निरीक्षण किया। इस दौरान जिलाधिकारी जसजीत कौर ने बताया कि अस्पताल में कोविड एल-1 और एल-2 के 100-100 बैड के चिकित्सालय तैयार किए गए हैं। एल-2 में 14 आईसीयू लगाए गए हैं। कमिश्नर ने कहा कि मरीजों को बेहतर सुविधा प्रदान की जाये और चिकित्सक मधुर व्यावहार करे। एल-1 व एल-2 में भर्ती मरीजों की लिस्ट तथा उनकी इम्परूमेंट की स्थिति एक स्क्रीन पर प्रकाशित की जाये, ताकि बाहर से आने वाले मरीजों के परिजनों को भी किसी प्रकार की परेशानी न हो। उन्होने कहा कि अस्पताल के प्रवेश द्वार पर सैनेटाईज मशीन रखी जाये ताकि प्रत्येक मरीज को सैनेटाईज किया जा सके। इसके अलावा अस्पताल परिसर में लगाए गए फूल मालाओं को हटाकर पूरा अस्पताल सैनेटाईज की जाये। इस दौरान जिलाधिकारी जसजीत कौर, कैराना सांसद प्रदीप चौधरी, एमएलसी विरेन्द्र सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष सतेन्द्र तोमर, सीएमओ डा. संजय भटनागर, एसीएमओ डा. सफल कुमार, डा. आरके ढाका, डा. जगमोहन आदि मौजूद रहे।

विपक्षी दलों पर अनर्गल प्रचार करने का भी आरोप
शामली। कैराना सांसद प्रदीप चौधरी ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऐतिहासिक कृषि सुधार विधेयक को पारित किया है। जिसमे किसानों को बिचौलियों से आजादी मिली है। उन्होने विपक्षी दलों पर अपने निजी स्वार्थ के लिए अनर्गल प्रचार करने का भी आरोप लगाया है।
बुधवार को कैराना सांसद प्रदीप चौधरी ने भाजपा कार्यालय पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऐतिहासिक कृषि सुधार विधेयकों को पारित किया है। संसद में पारित विधेयकों से किसानों को बिचौलियों से आजादी मिलेगी। इससे किसानों की आय को दोगुणा करने के प्रयासों को बल मिलेगा और उनकी स्मृद्धि होगी। उन्होने कहा कि किसानों की भलाई के लिए पारित कृषि संबंधित सुधारों को लेकर विपक्षी दल अपने निजी स्वार्थ के लिए अनर्गल प्रचार कर रहे है। मंडी प्रणाली भी चलती रहेगी तथा कृषि क्षेत्र में निवेश भी आएगा। उन्होने कहा कि इस अनर्गल विरोध को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नडडा के निर्देशानुसार कोविड -19 प्रोटोकॉल के अन्तर्गत ऐतिहासिक कृषि सुधारों पर आगामी एक अक्टूबर से 4 अक्टूबर तक आत्मनिर्भर किसान कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा। जिसमें सभी सांसद व विधायक अपने अपने क्षेत्र में अभियान चलाकर किसानों को जागरूक करेगे। इस अवसर पर एमएलसी विरेन्द्र सिंह, जिलाध्यक्ष सतेन्द्र तोमर, अनिल चौहान आदि मौजूद रहे।

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news