शामली के बीएसएफ जवान की पश्चिम बंगाल में मिली गोली लगी लाश, मचा कोहराम


शामली। जनपद के एक बीएसएफ जवान की पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत से परिजनों में कोहराम मच गया है। जवान का गोली लगा शव मिलने की जानकारी अफसरों ने परिजनों को दी है। दिवंगत जवान की पत्नी भी बीएसएफ में बताई जा रही है और उनका एक साल का बेटा है।
जनपद के गांव लांक निवासी भंवरसिंह कश्यप का 25 वर्षीय पुत्र विकास कश्यप बीएसएफ का जवान है और इन दिनों उसकी तैनाती पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में चल रही थी। बताया जाता है कि बीती देर रात्रि करीब 12 बजे विकास के बड़े भाई मनोज कश्यप के पास बीएसएफ कमांड आफिस की ओर से फोन कर बताया गया कि विकास कश्यप का शव नादिया जिले के सोनागिरी क्षेत्र में सड़क के किनारे मिला है। जिसके सिर में गोली लगी है। घटना की सूचना मिलने से परिवार में कोहराम मच गया। विकास की मृत्यु की खबर मिलते ही बड़ी संख्या में ग्रामीण और आसपास के लोग भी उसके घर संवेदना व्यक्त करने के लिए पहुंचे। बताया जाता है कि बीएसएफ जवान की मृत्यु की सूचना मिलने पर जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक भी गांव लांक पहुंचे। परिजनों ने बताया कि विकास तीन भाईयों में सबसे छोटा था, वह माता बाला का लाडला था। विकास वर्ष 2013 में बीएसएफ में भर्ती हुआ था और वर्ष 2018 में उसकी शादी पम्पा महतो से हुई थी, जो बीएसएफ की जवान है और फिलहाल पश्चिम बंगाल के ही मुर्शिदाबाद में तैनात हैं। उनका एक साल का बेटा अग्निदीप है। मुर्शिदाबाद नादिया जिले से करीब 120 किमी दूर है। बताया जाता है कि विकास पिछले काफी समय से अपनी पोस्टिंग मुर्शिदाबाद जिले में ही कराने के लिए प्रयासरत था, लेकिन ऐसा हो नहीं सका।

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news

loading…


Trending Posts