मुजफ्फरनगर शहर में कूडा जलाने वालों पर होगी अब बडी कार्यवाही, नगरपालिका ने दिए ये आदेश

<a href=”https://www.facebook.com/amrish.baliyan.54″><img class=”alignnone wp-image-88 size-full” src=”http://asbtoday.com/wp-content/uploads/2020/07/Amrish-Chaudhary.jpg” alt=”” width=”782″ height=”247″ /></a>
मुजफ्फरनगर। खेतों में पराली जलाने को लेकर किसानों पर जहां सेटेलाइट से नजर रखी जा रही है, वहीं अब शहर में कूड़ा जलाकर प्रदूषण फैलाने वालों लोगों की भी शामत आने वाली है। इसके लिए एनजीटी के आदेशों के अनुपालन में नगरपालिका परिषद् के अधिशासी अधिकारी ने दो टीमों का गठन करते हुए उनको शहर में भ्रमण कर कूड़ा जलाने वालों पर कार्यवाही के निर्देश दिये हैं।
खेतों में पराली जलाने से किसानों को रोकने के लिए एनजीटी के आदेशों पर जिला प्रशासन सख्त कार्यवाही के लिए सतर्क है। खेतों पर सेटेलाइट से निगरानी करते हुए कृषि विभाग के अधिकारी कार्यवाही भी कर रहे हैं। इसके साथ ही किसानों को पराली को खेतों में ही खाद के रूप में निस्तारित करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है, जाकि प्रदूषण ना फैल सके। इसके साथ ही शहरों में लोगों के द्वारा कूड़ा करकट में आग लगाने की तस्वीरें गाहे बगाहे सामने आ रही है, जबकि मुजफ्फरनगर के एनसीआर में शामिल होने के साथ ही यहां पर लागू हुए एनजीटी के आदेशों के अन्तर्गत कूड़ा जलाना भी प्रतिबंधित किया गया है। इसी कड़ी में जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे. द्वारा दिये गये निर्देशों को लेकर नगरपालिका परिषद् ने मुजफ्फरनगर शहर में कूड़ा जलाने वाले लोगों पर कार्यवाही के लिए दो टीमों का गठन कर दिया है। ईओ विनय कुमार मणि त्रिपाठी ने बताया कि नगर क्षेत्र में लोगों को कूड़ा जलाने से रोकने के लिए जिलाधिकारी द्वारा कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि इसी कड़ी में पालिका के मुख्य सफाई एवं खाद्य निरीक्षक राजीव कुमार को इस अभियान के लिए प्रभारी नामित करते हुए उनके निर्देशन में कार्य करने के लिए दो टीमों का गठन किया गया है। उन्होंने इसके लिए जारी आदेश में बताया कि इसमें पहली टीम में सफाई निरीक्षक संजय पुंडीर और कर निरीक्षक अमरजीत रहेंगे, जबकि दूसरी टीम में सफाई निरीक्षक उमाकांत और कर निरीक्षक विजय कुमार रहेंगे। दोनों टीमों में कर निरीक्षकों को एक-एक बीसी भी अपने साथ रखने के लिए निर्देशित किया गया है। उन्होंने कहा कि दोनों टीम में शामिल सफाई निरीक्षक अपने अपने क्षेत्रों में भ्रमण करेंगे। यदि कोई व्यक्ति कूड़ा जलाते हुए पाया जाता है तो उसके खिलाफ मौके पर ही चालान कर एनजीटी के आदेशों के तहत निर्धारित जुर्माना भी वसूलेंगे। ईओ विनय कुमार त्रिपाठी ने इन आदेशों का तत्काल पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं।
<a href=”https://play.google.com/store/apps/details?id=com.sandeepkumar30982.muzaffarnagar_news&amp;hl=en_IN”><img class=”aligncenter wp-image-96 size-full” src=”http://asbtoday.com/wp-content/uploads/2020/07/MZN-NEWS-APP.jpg” alt=”” width=”639″ height=”359″ /></a>

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news

loading…