मुजफ्फरनगर तक पहुंची बलिया कांड की जांच, भाजपा पर लगे ये आरोप

<a href=”https://www.facebook.com/amrish.baliyan.54″><img class=”alignnone wp-image-88 size-full” src=”http://asbtoday.com/wp-content/uploads/2020/07/Amrish-Chaudhary.jpg” alt=”” width=”782″ height=”247″ /></a>
मुजफ्फरनगर। बलिया में भाजपा कार्यकर्ता द्वारा भरी पंचायत में एक व्यक्ति की हत्या करने के विरोध में आज आजाद समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट स्थित डीएम कार्यालय पर प्रदर्शन किया। उन्होंने राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन सौंपा।
ज्ञापन में आजाद समाज पार्टी कार्यकर्ताओं ने कहा कि देश का सबसे बड़ा राज्य कहे जाने वाले भाजपा शाषित राज्य उत्तर प्रदेश में दबंगों, माफियाओ एवं बाहुबलियो का बोल बाला चरम सीमा पर है और प्रदेश में राम राज्य के नाम पर गुण्डा राज कायम है। बलिया जिले के गांव दुर्जनपुर गांव में 15 अक्टूबर को एसडीएम और सीओ की मौजूदगी में सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान का आवंटन किया जा रहा था, जिसमें एक प्रत्याशी पिछडे़ समाज से जयप्रकाश पाल तथा दूसरा प्रत्याशी स्वर्ण समाज से भाजपा कार्यकर्ता था, जिसने पुलिस प्रशासन के सामने जयप्रकाश पाल की हत्या कर दी, जिसमें बलिया के बेरिया विधान सभा के विधायक की सक्रिय भूमिका है। आजाद समाज पार्टी ने मृतक के आश्रित परिवार को 50 लाख रूपये व परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी देने के साथ ही दलित अति पिछडो व अल्पसंख्यको को सुरक्षा प्रदान की करने की मांग की है। प्रदर्शन करने वालों में मुख्य रूप से जगदीश पाल, अजीत सिंह, कपिल मलीरा, विनोद मिठालिया, रजत निठारिया, रवि सिंह आदि कार्यकर्ता शामिल रहे। दूसरी ओर बलिया जनपद में एसडीएम और सीओ की मौजूदगी में कोटा आवंटन के विवाद में भाजपा कार्यकर्ता द्वारा पाल समाज के दावेदार को गोली मारकर हत्या करने के मामले में अखिल भारतीय पाल महासभा ने रोष जताया। शनिवार को पाल महासभा के जिलाध्यक्ष रमेश चन्द पाल के नेतृत्व में पाल समाज के लोगों ने कलेक्ट्रेट स्थित डीएम कार्यालय पर प्रदर्शन कर राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन प्रेषित किया। इसमें पाल महासभा ने समस्त गडरिया व धनगर समाज के लोगों की ओर से बलिया के दुर्जनपुर गांव में जयप्रकाश पाल की पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में भाजपा कार्यकर्ता धीरेन्द्र प्रताप सिंह द्वारा गोली मारकर हत्या किये जाने की घटना पर आक्रोश प्रकट किया गया।
इसमें भाजपा विधायक सुरेन्द्र सिंह के बयान की भी निंदा की गयी। अखिल भारतीय पाल महासभा ने राज्यपाल से मृतक जयप्रकाश के परिजनों को राज्य सरकार की ओर से एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता दिलाने, एक सदस्य को नौकरी, परिवार को सुरक्षा, घटना में घायल व्यक्तियों को दस-दस लाख की सहायता, मुफ्त इलाज, भाजपा विधायक सुरेन्द्र सिंह पर कार्यवाही और इस घटना की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है। प्रदर्शन में रमेश चन्दपाल, रोशन पाल, सभासद अरविन्द धनगर, ओमवीर सिंह, रामनिवास पाल, हरीश कुमार, बिजेन्द्र पाल, राजकुमार, देशपाल, पप्पू प्रधान, दर्शन सिंह, अमरनाथ पाल आदि लोग मौजूद रहे।
<a href=”https://play.google.com/store/apps/details?id=com.sandeepkumar30982.muzaffarnagar_news&amp;hl=en_IN”><img class=”aligncenter wp-image-96 size-full” src=”http://asbtoday.com/wp-content/uploads/2020/07/MZN-NEWS-APP.jpg” alt=”” width=”639″ height=”359″ /></a>

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news

loading…