हमारा खून आपके सिर होगा पीएम’, ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री पर भड़का पूर्व कंगारू खिलाड़ी

नई दिल्ली। भारत में जारी कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच कई ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने बीच में ही लीग छोड़कर अपने देश वापस जाने का फैसला किया जिसके बाद ऑस्ट्रेलियाई अंपायर पॉल रीफ और कॉमेंटेटर माइकल स्लेटर ने भी टूर्नामेंट छोड़ने का फैसला किया। हालांकि अंपायर पॉल रीफ और माइकल स्लेटर ने जब तक यह फैसला लिया तब तक उनके लिये काफी देर हो चुकी थी। ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने भारत से आने वाले सभी डायरेक्ट फ्लाइट पर 15 मई तक का बैन लगा दिया है, इसके साथ ही ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री ने इस बैन का उल्लंघन करने वाले किसी भी नागरिक को 5 साल की सजा देने का भी ऐलान किया है।

ऑस्ट्रेलियाई सरकार के इस फैसले को लेकर क्रिकेटर से कमेंटेटर बने माइकल स्लेटर ने अपने देश के पीएम स्कॉट मॉरिसन की आलोचना की है और कहा कि कोरोना वायरस से जूझ रहे भारत से अपने देश लौटने की इजाजत न देना अपने ही देश के नागरिकों का अपमान है। उल्लेखनीय है कि ऑस्ट्रेलियाई सरकार के इस फैसले के चलते आईपीएल में भाग ले रहे सभी कंगारू खिलाड़ियों, सहयोगी स्टाफ और कमेंटेटरों की समस्या बढ़ गई है।

इस मामले को लेकर स्लेटर ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल के जरिये ट्वीट करते हुए लिखा,’अगर हमारी सरकार को ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों की सुरक्षा की परवाह है तो वह हमें वापस अपने देश लौटने की इजाजत देगी। आपकी हिम्मत कैसे हुए ऐसा करने की, अगर हमारे साथ कुछ भी बुरा होता है तो उसके जिम्मेदार आप होंगे पीएम। यह अपमानजनक है। आप क्वारंटीन प्रणाली को किस तरह से सुलझा रहे हैं। आईपीएल के दौरान भारत आकर काम करने की इजाजत हमें ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने ही दी थी लेकिन अब वह ही हमें नजरअंदाज कर रही है।’

गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने अपने देश के नागरिकों को भारत से स्वदेश लौटने को लेकर बैन लगा रखा है। वहीं स्लेटर आईपीएल का बायोबबल छोड़ चुके हैं और मालदीव घूमने के लिये निकल गये हैं।

आपको बता दें कि स्लेटर अब आईपीएल के बाकी मैचों में नहीं नजर आयेंगे। वह मालदीव से ही ऑस्ट्रेलिया लौटने का प्रयास करेंगे। इस बीच आईपीएल में कोरोना संक्रमित खिलाड़ियों के मामले सामने आने के बाद टीमों में घबराहट का माहौल बना हुआ है।