मुजफ्फरनगर वालों ने बनाई अनोखी मशीन, खुद हाथों को कर देगी सेनेटाईज

मुजफ्फरनगर। देश और दुनिया में बढते कोरोना संक्रमण के प्रकोप को देखते हुए सरकार एवं प्रशासन द्वारा दिये गये दिशा निर्देशानुसार श्रीराम ग्रुप ऑफ कॉलिजेज में श्रीराम टैक्नोलॉजी, मुजफ्फरनगर द्वारा निर्मित ऑटोमैटिक हैण्ड सेनेटाईजर डिस्पेन्सर मशीन को स्थापित किया गया जिससे संस्थान में आने वाला प्रत्येक व्यक्ति अपने हाथो को सेनेटाईज करके ही संस्थान में प्रवेश करें। संस्थान में इस तकनीक का उद्घाटन श्रीराम ग्रुप ऑफ कॉलिजेज के चेयरमैन डॉ0 एस0सी0 कुलश्रेष्ठ द्वारा किया गया। इस ऑटोमैटिक सेनेटाईजर मशीन की खासियत यह है कि यह मशीन बिना छुये ही सैन्सर तकनीक के माध्यम से कार्य करती है तथा हाथो को मात्र 3 सैकेण्ड में कीटाणुरहित कर देती है।
डॉ0 एस0सी0 कुलश्रेष्ठ, चेयरमेन श्रीराम ग्रुप ऑफ कॉलिजेज ने इस ऑटोमैटिक हैण्ड सेनेटाईजर के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि वर्तमान में वैश्विक महामारी का रूप ले चुके कोविड-19 वायरस से बचाव के लिए हैण्ड सेनेटाईजर के प्रयोग की आवश्यकता है, परन्तु सेनेटाईजर के लिए प्रयुक्त होने वाली बोतल आदि भी हाथो के सम्पर्क में आने से संक्रमित हो सकती है, इसलिए श्रीराम टैक्नोलॉजी के तत्वाधान में हमारे संस्थान के छात्रों ने स्वचालित हैण्ड सेनेटाईजर मशीन का निर्माण किया है। इस मशीन की बॉडी प्लास्टिक की बनी है जिसमें 10 लीटर तक सेनेटाईजर भरा जा सकता है। इस मशीन को बनाने में स्वचालित सेन्सर का प्रयोग किया गया है, जो बिना मशीन को छुए ही हाथो को सेनेटाईज कर देती है तथा स्वतः ही बन्द हो जाती है। भविष्य को ध्यान में रखते हुए इस तरह की मशीने कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए कारगर उपाय है। यह मशीन शापिंग मॉल, अस्पताल, स्कूल-कॉलेज, सरकारी कार्यालयों आदि में आने वाले व्यक्तियों के हाथो को सेनेटाईज करने के लिए श्रेष्ठ रहेगी। लॉकडाउन खत्म होने के बाद भी हम सभी को कोरोनो के खिलाफ जारी मुहिम में अपना योगदान देते रहना है और इस तरह की मशीन निश्चित ही संक्रमण को बढने से रोकने में कारगर होगी। इस अवसर पर श्रीराम कॉलेज के निदेशक डॉ0 आदित्य गौतम, श्रीराम कॉलेज की प्राचार्य डॉ0 प्रेरणा मित्तल, डीन मैनेजमेन्ट पंकज कुमार एवं श्रीराम ग्रुप ऑफ कॉलिजेज के निदेशक डॉ0 आलोक गुप्ता ने विद्यार्थियों को उनकी इस उपलब्धि के लिए बधाई दी तथा उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

loading…