मुजफ्फरनगर में पुलिस टीम पर हमले का प्रयास, हाथापाई, फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे अफसर

प्रतीकात्मक चित्र

मुजफ्फरनगर। जनपद के कस्बा खतौली के मौहल्ला लाल मोहम्मद में चाट की ठेली पर लगी भीड को हटाना दरोगा को महंगा पड गया। ठेली वाले को हटाने के लिए बल प्रयोग करने का प्रयास किया तो भीड ने दरोगा को घेर लिया। हाथापाई होते देख दरोगा ने कोतवाली से फोर्स बुलाई। फोर्स को देखकर लोग घरों में दुबक गए। दरोगा की ओर से माहौल खराब करने के प्रयास में छह लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया गया है।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक लॉकडाउन के चलते खतौली कोतवाली में तैनात दरोगा अपने क्षेत्र में गश्त करते है। दरोगा एक सिपाही के साथ नगर के मौहल्ला लाल मोहम्मद में गश्त करने पहुंचा। एक ठेली पर लोगों की भीड लगी हुई थी। दरोगा ने उसको घर जाने को कहा तो एक व्यक्ति ने ठेली हटाने से इंकार तो किया ही साथ ही दरोगा से अभद्रता भी शुरू कर दी। दरोगा ने ठेली वाले पर बल प्रयोग किया तो मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई। भीड़ ने आक्रोशित होकर दारोगा को घेरा तो धक्का मुक्की होते देखकर दरोगा पीछे हट गया। कुछ दूर जाने के बाद दरोगा ने कोतवाली में फोन से घटना की सूचना दी। सूचना मिलते ही सीओ आशीष प्रताप सिंह, कोतवाल संतोष कुमार त्यागी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस के पहुंचने से पहले ही लोग अपने घरों में दुबक गए। फोर्स ने काफी देर तक फोर्स के साथ गलियों में उपद्रवियों की तलाश की लेकिन उनका कोई पता नहीं चल पाया। सीओ ने इस मामले में एक मुख्य आरोपी के घर दबिश दी तो आरोपी फरार हो गया। दरोगा की ओर से चर्चित युवक व उसके बेटों समेत छह लोगों पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की है।

loading…