पूजा घर में इन चीजों को रखने से चमक जाता है भाग्य, नहीं होती धन-समृद्धि में कमी

किसी भी घर का सबसे पवित्र स्थान पूजा घर होता है। पूजा घर अगर सही दिशा में बनाया जाए और उसे साफ रखा जाए। तो घर में धन-संपत्ति की कमी नहीं होती है और परिवार के लोगों के बीच प्यार बना रहता है। वास्तु के अनुसार पूजा घर से सकारात्मक ऊर्जा जुड़ी होती है। जिसका संचार पूरे घर में होता है। ऐसा होने से घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं कर पाती है और घर का वातावरण अच्छा बना रहता है। इसलिए जब भी घर बनाएं तो उसमें एक पूजा घर जरूर रखें। साथ में ही नीचे बताई गई चीजों को पूजा घर के अंदर रखना न भूलें।

पूजा घर के अंदर नीचे बताए गई पांच चीजें होना बेहद ही जरूर माना गया है। इन चीजों को पूजा घर में रखने से घर में समृद्धि बनीं रहती है और जीवन में किसी भी चीज की कमी नहीं होती है।

* मोर का पंख.
अपने पूजा घर में एक मोर का पंख जरूर रखें। मोर का पंख पूजा घर में रखने से घर में सकारात्मकता आती है। शास्त्रों के अनुसार भगवान श्री कृष्ण को मोर पंख बहुत पसंद हैं। जो लोग अपने घर में मोर पंख रखते हैं, उन पर कृष्ण की कृपा बन जाती है। मोर के पंख को प्रेम का प्रतिक भी माना जाता है और इसके आस पास होने से घर के सदस्यों के बीच प्यार बढ़ता है। इसके अलावा ये भी कहा जाता है कि ये पंख घर में कीड़े मकोड़ नहीं आने देता हैं।

* गंगा जल.
गंगा जल को बेहद ही पवित्र माना जाता है और इसे पूजा घर में रखने से नकारात्मक ऊर्जा घर से दूर रहती है। वहीं जिन घरों में नकारात्मक ऊर्जा का वास होता है, वहां पर रोज सुबह पूजा के बाद गंगा जल का छिड़काव करना चाहिए। घर में ये पवित्र जल छिड़कने से नकारात्मक ऊर्जा दूर हो जाती है।

इसके अलावा ये भी मान्यता है कि पूजा घर में गंगा जल के होने से मां लक्ष्मी की कृपा बनीं रहती है। आप बस घर के मंदिर में किसी चांदी या पीतल के बर्तन में गंगाजल रख दें।

* शंख
शंख की पूजा करना शुभ फल देता है और पूजा घर में इसका होना बेहद जरूरी होता है। मंदिर में शंख रखने से घर का वातावरण अच्छा होता है। रोज पूजा के बाद शंख को बजाने से सकारात्मकता बनी रहती है। हालांकि इस बात का ध्यान रखें की कभी भी शंख को सीधे पर तौर जमीन पर न रखें। शंख को लाल रंग के कपड़े के ऊपर ही रखा करें।

* शालिग्राम
शालिग्राम को विष्णु जी का स्वरूप माना गया है और इसे पूजा घर में जरूर रखना चाहिए। शालिग्राम बहुत शुभ माना जाता है और इसे पूजा करने से रखने से विवाह भी जल्द हो जाता है। शालिग्राम को पीले या लाल वस्त्र पर रखा जाता है और इसकी पूजा अन्य देवताओं की तरह ही की जाती है।

* गोमूत्र
घर में गोमूत्र को जरूर रखें। घर में गोमूत्र के होने से वास्तु दोष दूर हो जाता है और देवी-देवताओं की कृपा बनीं रहती है। इसके अलावा पूजा घर में कभी भी अधिक मूर्तियां न करें। वास्तु के अनुसार पूजा घर में केवल पांच देवी-देवताओं की मूर्ति होनी चाहिए। मूर्तियों को रोज गंगा जल से साफ करना चाहिए। अगर कोई मूर्ति खंडित हो जाए तो उसे किसी पेड़ के नीचे रख दें। शास्त्रों में खंडित मूर्ति की पूजा करना वर्जित माना गया है। इसलिए मूर्ति खंडति होते ही उसकी जगह नई मूर्ति को ले आएं।