जानिए शामली में मिली दो युवतियों की लाश के मामले में कहां अटकी पुलिस की जांच?

शामली। कैराना कोतवाली पुलिस ने जगनपुर के जंगल से मिले दो युवतियो के शवो के मामले मे चार बाग ठेकेदारो का पूछताछ के लिए हिरासत मे लिया है। पुलिस अभी तक शवो की पहचान न हो पाने के कारण अपनी जांच को आगे नही बढा पा रही है। वही तय माना जा रहा है कि युवतिया जनपद के बाहर की हो सकती है।
चार दिन पूर्व कैराना कोतवाली क्षेत्र के गांव जगनपुर के जंगल से ग्रामीणो की सूचना पर पुलिस ने दो युवतियो के शव बरामद किये थे। काफी प्रयासो के बावजूद शिनाख्त न होने पर पुलिस ने शवो को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जिसमे गला घोटने व अदरूनी चोटो के कारण युवतियो की मौत होना सामने आया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मे बलात्कार न किया जाना इस बात को बल देता है कि युवतियो की हत्या की वजह कुछ और ही है। युवतियो के पास से कोई ऐसी वस्तु भी बरामद नही हुई। जिससे उनकी पहचान होने मे मदद मिल सकें। मामले मे गांव के चौकीदार राजवीर की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्जकर जांच को थोडा आगे जरूर बढाया लेकिन कोई खास कामयाबी पुलिस के हाथ नही लग पा रही है। सर्विसलांस, एसओजी सहित चार टीमो को इस मामले के खुलासे के लिए लगाया गया है। पुलिस ने घटनास्थल के पास के चार बाग ठेकेदारो को पूछताछ के लिए हिरासत मे लिया है, लेकिन वे भी कोई पुख्ता जानकारी पुलिस को नही दे पा रहे है। शिनाख्त न होने के चलते पुलिस दोनो युवतियो के जनपद के बाहर की होना मान रही है। पुलिस का सबसे पहला प्रयास युवतियो की शिनाख्त कराना है। जिससे जांच को तेजी के साथ आगे बढाया जा सकें।

शामली में शुगर मिल में खराबी से सडकें जाम, लोग परेशान

शामली। पेराई सत्र के अंतिम दौर में चल रही अपर दोआब शुगर मिल में तकनीकी खराबी के चलते मिल बंद होने से किसानों को परेशानियों का सामना करना पड रहा है। जिससे सड़कों पर गन्ने से लदे वाहनों की लाइने हुई है और आने जाने वाले लोगों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पडा।
शामली चीनी मिल में गत बृहस्पतिवार दोपहर को करीब दो बजे अचानक बॉयलर में तकनीकी खराबी आ गई थी। जिससे मिल बंद हो गई और किसानों को गन्ना तुलवाने के लिए इंतजार करना पड़ा। दिनभर चले मरम्मत कार्य के बाद गत शुक्रवार सुबह करीब पांच बजे मिल चालू हो गई, लेकिन एक घंटा चलने के बाद फिर से बॉयलर में तकनीकी कमी आने के कारण बंद हो गई। इसके बाद फिर मरम्मत कार्य शुरू हुआ, जो शनिवार तक जारी रहा। शनिवार दोपहर को मिल चालू हो सकी। मिल बंद होने से मिल रोड से लेकर अस्पताल रोड और हनुमान रोड पर गन्ना वाहनों की लाइनें लग गई। सुबह सात बजे से दोपहर 12 बजे तक लॉकडाउन में छूट के दौरान बाजार खुलने का समय निर्धारित है। उसी समय मिल बंद रहने से सड़कों पर गन्ना वाहनों की लाइन लगी रहने से लोगों को आने जाने में परेशानी भी उठानी पड़ी। उधर, गर्मी के कारण किसान भी परेशान रहे।

loading…