अभी-अभी: CM योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी, मचा हड़कंप

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी मिली है। धमकी भरा यह संदेश यूपी पुलिस के 112 के हेल्पडेस्क के वाट्सएप नंबर पर 21 मई की रात 12:35 बजे आया। इस मैसेज को भेजने वाले ने सीएम योगी को एक विशेष समुदाय के लिए खतरा बताया गया है। इस मामले में लखनऊ के गोमती नगर पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई। पुलिस की कई टीमें संदेश भेजने वाले की तलाश में जुटी हैं। डीजीपी मुख्यालय से सभी जिलों की पुलिस को अलर्ट किया गया है। लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत कुमार पांडेय के पर्यवेक्षण में जांच कराई जा रही है। एसटीएफ की एक टीम को मुंबई भी भेजा गया है।

एडीजी 112 असीम अरुण ने बताया कि जिस नंबर से धमकी भरा संदेश आया, वह नंबर महाराष्ट्र का है। नंबर ऑन था और उसकी लोकेशन मुंबई में पाई गई, जिसके आधार पर एसटीएफ की एक टीम मुंबई भेजी गई है। अन्य जांच एजेंसियां भी सक्रिय हो गई हैं। हालांकि जिस तरह से वाट्सएप संदेश के जरिए धमकी दी गई, उससे पुलिस इसे किसी शरारती तत्व की करतूत भी मान रही है। उल्लेखनीय है कि पूर्व में कई बार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जान को खतरे की आशंका के चलते अलर्ट जारी होते रहे हैं।

यूपी पुलिस के 112 मुख्यालय में गुरुवार देर रात लगभग साढ़े बारह एक वॉट्सएप मैसेज आया था। यह मैसेज डायल 112 की सोशल मीडिया डेस्क के वाट्सएप नंबर 7570000100 पर आया था। मैसेज में लिखा है कि ‘सीएम योगी को मैं बम से मारने वाला हूं। वह (एक खास समुदाय का नाम लिखा) की जान का दुश्मन है।’ इस मैसेज के आने के बाद तत्काल आला अफसरों को इसकी जानकारी दी गई।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी को गंभीरता से लेते हुए कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार धमकी मोबाइल नंबर 8828453350 से आई थी। पुलिस ने इस नंबर के आधार पर एफआईआर दर्ज कर ली है। पुलिस अब इस मोबाइल नंबर की डिटेल निकाल रही है कि यह किसके नाम से है।

मैसेज के मिलने के महज 19 मिनट में एफआईआर दर्ज

अधिकारियों ने बताया कि गोमती नगर थाने में मुकदमा पंजीकृत किया गया है। खासबात यह है कि इस मामले में पुलिस पूरी तत्परता दिखाई। मैसेज 21 मई की रात में 12 बजकर 32 मिनट पर आया मिला था। इस मैसेज के मिलने के महज 19 मिनट के अंदर 12 बजकर 51 मिनट पर गोमती नगर पुलिस स्टेशन एफआईआर दर्ज करा दी गई। गोमती नगर के निरीक्षक डीके सिंह ने बताया कि 112 मुख्यालय से संदेश मंगाया गया है। संदेश भेजने के लिए उपयोग किये नम्बर की जांच शुरू कर दी गयी है। जल्द ही लोकेशन ट्रेस हो जायेगी। लखनऊ के गोमती नगर थाना में शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले अज्ञात के खिलाफ धारा 505 वन बी, 506 और 507 के तहत एफआईआर दर्ज की गयी है।

सीएम को धमकी से यूपी पुलिस की उड़ी नींद

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी भरे मैसेज ने उत्तर प्रदेश पुलिस की नींद उड़ा दी है। धमकी भरा यह संदेश यूपी 112 के हेल्पडेस्क के व्हाट्सएप नंबर पर 21 मई की रात 12.35 बजे आया। तब से आरोपित की तलाश में टीमें जुटी हैं। यूपी पुलिस ने अन्य राज्यों की पुलिस से भी संपर्क किया है। मामला बेहद गंभीर और मुख्यमंत्री की सुरक्षा से जुड़ा है, लिहाजा उनकी सुरक्षा से लेकर सभी पहलुओं पर विशेष सतर्कता बरती जा रही है।

आरोपित की तलाश में लगाई गई कई टीमें

संयुक्त पुलिस आयुक्त अपराध नीलाब्जा चौधरी के मुताबिक 8828453350 मोबाइल नंबर से धमकी भरा मैसेज आया था, जिसमें लिखा था कि मैं मुख्यमंत्री को बम से उड़ाने वाला हूं। उन्होंने बताया कि गोमतीनगर थाने में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ इंस्पेक्टर धीरज शुक्ला की तहरीर पर एफआईआर दर्ज हुई है। धमकी देने वाले की तलाश की जा रही है। प्रथम दृष्ट्या छानबीन में किसी संगठन का हाथ सामने आ रहा, जल्द ही इसका राजफाश किया जाएगा। आरोपित कोई भी हो वह सलाखों के पीछे होगा। पुलिस, एसटीएफ, क्राइम ब्रांच, सर्विलांस समेत कई टीमें आरोपित की तलाश में लगाई गई हैं।

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news

loading…


Trending Posts