अभी-अभीः मुजफ्फरनगर में सरकुलर रोड व लद्दावाला के ये एरिया किए गए सील

मुजफ्फरनगर। शहर में दो एरिया नए हाट स्पॉट घोषित कर दिए गए हैं। जिला चिकित्सालय परिसर में रह रहे रिटायर्ड चिकित्साकर्मी के कोरोना संक्रमित मिलने के बाद उसके मकान को सील करने के साथ ही प्रशासन ने इससे लगते मौहल्ला लद्धावाला के 250 मीटर क्षेत्र में आने वाले इलाके को सील कर हॉट स्पॉट घोषित कर दिया है जबकि सरकूलर रोड पर आनंद विहार मौहल्ले में भी चार गलियों को सील किया गया है। उधर जिला चिकित्सालय को सेनिटाइज कर इसका संचालन जारी रखा गया है।
मुजफ्फरनगर में 17 मई से अब तक 15 नए कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं। इसमें आठ दूसरे राज्यों से आए जिले के निवासी कामगार हैं। गुरुवार को मिले कोरोना संक्रमित जिला चिकित्सालय के रिटायर्ड कर्मचारी के कोरोना संक्रमित मिलने के बाद उसके परिवार समेत कुल आठ लोगों को घर से ले जाकर होटल में क्वारंटाइन कर दिया गया है इसमें कोरोना संक्रमित के पुत्र व अन्य परिजन हैं। मकान को पूरी तरह से सीज कर दिया गया। इसके अलावा मकान के पीछे की ओर मौहल्ला लद्धावाला पर भी इसका असर हुआ। अस्पताल चौक से लद्धावाला की ओर जाने वाली सड़क को बेरिकेटिंग लगाकर सील कर दिया गया। इसके अलावा कुछ अन्य गलियों को भी सील किया गया। इससे लद्धावाला के सैंकडों लोग प्रभावित होंगे। हालांकि जिला चिकित्सालय में आम आदमी की एंट्री को कुछ प्रतिबंधित किया गया है लेकिन यहां पर स्वास्थ्य सेवाओं को जारी रखा गया है। लद्धावाला के नाम से नया हॉट स्पॉट चिन्हित किया गया है। नगर मजिस्ट्रेट अतुल कुमार ने सील किए गए इलाके का दौरा किया।
ईद पर लद्धावाला इलाका सील होने से इस क्षेत्र में मायूसी है। लद्धावाला निवासी लोगों का कहना है कि हालांकि जिला अस्पताल पूरी तरह से अलग परिसर है उसका मौहल्ले से कोई मतलब नही हैं फिर भी लोग लॉक डाउन में घरों में रह रहे हैं और घर पर ही अलविदा जुमे की नमाज अदा की इसी तरह से हॉट स्पॉट में ईद मना लेंगे। हालांकि उन्होंने कहा कि ईद पर दूध व अन्य जरूरी सामान की होम डिलीवरी होनी चाहिए। उधर सरकूलर रोड पर भी जाट कालोनी के आनंद विहार कालोनी में चार गलियों को प्रशासन ने सील कर कंटेनमेंट जोन घोषित किया है और यहां पर सब प्रकार की गतिविधियों पर रोक लगा दी है। यहां पर गुरुवार को पूर्व जिला पंचायत सदस्य के पुत्र के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। हालांकि इलाके की स्थिति को देखते हुए यहां पर 250 मीटर क्षेत्र सील करने के बजाए इलाके की केवल चार गलियों को सील किया गया है।

loading…