अभी-अभी: सिंधिया का कांग्रेस पर हमला, कह डाली यह बडी बात…

भोपाल। मध्यप्रदेश में एक तरफ जहां कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। वहीं, दूसरी तरफ राजनीति भी जोरों पर हैं। कांग्रेस लगातार ज्योतिरादित्य सिंधिया पर हमला बोल रही है। कांग्रेस के इन हमलों पर अब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पलटवार किया है। कांग्रेस छोड़ने के बाद सिंधिया ने पहली बार कांग्रेस पर हमला बोला है। मध्यप्रदेश में संबल योजना फिर से शुरू होने पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस पर हमला बोला है। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि इस योजना को कांग्रेस ने राजनीतिक द्वेषता के कारण योजना बंद की गई थी।
ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट करते हुए कहा- संबल योजना के तहत गरीब भाई-बहनों के बच्चों की पहली कक्षा से लेकर पीएचडी तक की पढ़ाई का खर्च मप्र सरकार उठाएगी। उच्च शिक्षा के लिए प्राइवेट कॉलेज की फीस भी सरकार भरेगी। गरीब अपने बच्चों को पढ़ने के लिए प्रेरित करें। मुख्यमंत्री संबल योजना सभी वर्ग के गरीब के लिए है। आमजन के कल्याण के बनी इस योजना को राजनीतिक द्वेषता के कारण पूर्व की कांग्रेस सरकार ने बंद कर दिया था। जिसे शिवराज सिंह जी ने आम जनता के लिए एक बार इस योजना को शुरू किया।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को ‘संबल’ योजना को रिलॉन्च किया। इसके तहत 1863 हितग्राहियों के खाते में 41.29 करोड़ रुपये सिंगल क्लिक से ट्रांसफर किए। दरअसल, असंगठित क्षेत्र के कामगारों के लिए 2018 में मुख्यमंत्री जन कल्याण संबल योजना शुरू की गई थी। बाद में सत्ता परिवर्तन होने के बाद कमलनाथ सरकार ने इस योजना को बंद कर दिया गया था और नया सवेरा योजना शुरू की थी। लेकिन 15 महीने बाद मध्यप्रदेश में एक बार फिर से भाजपा की सरकार बन गई और एक बार फिर से इस योजना को शुरू किया गया है।
संबल योजना फिर से शुरू होने पर कांग्रेस ने भाजपा पर हमला बोला। पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि अपने लोगों को फायदा पहुंचाने के लिए इस योजना को शुरू किया गया है। वहीं, पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा- जिन लोगों ने इस योजना पर सवाल उठाए थे वही लोग आज इसकी तारीफ कर रहे हैं। बता दें कि महेन्द्र सिंह सिसौदिया जब कांग्रेस में थे तो उन्होंने इस योजना पर सवाल उठाते हुए कहा था कि इस योजना में 10 से 12 लाख लोग फर्जी हैं।

loading…