पत्नी ने ली ऐसी सेल्फी, बर्बाद हो गया पूरा घर, 24 घंटे से बिलख-बिलखकर रो रहा है पति

भोपाल. आजकल लोगों में सेल्फी का क्रेज सिर चढ़कर बोल रहा है। खास फोटो दिखे इसके लिए वह बड़ा से बड़ा खतरा उठा लेते हैं। लेकिन कई बार ऐसा करना भारी महंगा पड़ जाता है और सेल्फी की दीवानगी कभी मौत की वजह भी बन जाती है। ऐसा ही एक मामला राजधानी भोपाल के पास स्थित हलाली डैम से सामने आया है। जहां घूमने आए एक डॉक्टर के लिए हादसे का सबब बन गया। डैम के पास उसकी पत्नी सेल्फी ले रही थी कि तभी उसका बैलेंस बिगड़ा और वह 10 से 12 फीट नीचे पानी में गिर पड़ी। पति बिलख-बिलखकर रोता रहा कोई तो मेरी हिमानी को बचा लोग उसको पानी से बाहर निकालो नहीं तो वह मर जाएगी। लेकिन काफी देर तक तलाशन के बाद उसको कहीं कोई पता नहीं चला।

दरअसल, भोपाल के रहने वाले डॉक्टर उत्कर्ष मिश्रा अपनी पत्नी हिमानी मिश्रा के साथ भोपाल से करीब 40 किलोमीटर दूर रविवार को कार से हलाली डैम घूमने आए थे। छुट्टी होने की वजह से डैम पर काफी देर तक दोनों देर तक इधर-उधर घूमा। इस दौरान उन्होंने साथ में खूब सारे फोटो क्लिक किए। लेकिन उनको क्या पता था कि यह उनकी साथ में आखिरी फोटो होंगी।

उत्कर्ष मिश्रा दूर खड़े होकर अपना मोबाइल चलाने में बिजी हो गए। इसी दौरान उनकी पत्नी डैम के निचले हिस्से वेस्ट वीयर के पास दीवार के नीचे बैठकर सेल्फी लेने लगी। अचानक चढ़ते वक्त हिमानी का पैर फिसल गया और वह 10 से 12 फीट नीचे पानी में गिर गई। पति के छलांग लगाने से पहले ही वो पानी के तेज बहाव में बहने लगी और कुछ देर बाद उसका दिखाई देना भी बंद हो गया।

घटना स्थल पर लोगो की भीड़ जमा हो गई। लेकिन कोई हिमानी को पानी से बाहर नहीं निकाल पाया। यहां तक की पुलिस भी मौके पर पहुंची रातभर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया। लेकिन बॉडी को ढूंढा नहीं जा सका, सोमवार सुबह फिर से रेस्क्यू चलाया जा रहा है, पर अभी तक कोई पता नहीं है।

घटना के बाद मीडिया को उत्कर्ष ने बताया कि मैं और हिमानी दोनों ही भोपाल के वीणावादिनी कॉलेज में आयुर्वेदिक डाक्टर हैं। हमारी शादी 9 साल पहले हुई थी, दो बच्चे भी हैं। परिवार बहुत खुश था, लेकिन इस हादसे नें हमारी सारी खुशियां मातम में बदल दीं।

वहीं रेस्क्यू ऑपरेशन चला रहीं करारिया थाना प्रभारी अरुणा सिंह ने बताया कि रात तक पुलिस महिला की तलाश में लगी रही। वेस्ट वीयर के निचले हिस्से में बहुत ऊबड़-खाबड़ खाईनुमा जगह है। यहां रात में किसी को तलाशना बहुत मुश्किल होती है। सुबह फिर से सर्च अभियान शुरू किया जाएगा। हादासा होते ही डैम पर लोगों की भीड़ जमा हो गई और इलाके में सनसनी फैल गई। कुछ लोग अपने परिवार को लेकर वहां से फौरन अपने घर आ गए।

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news

loading…