पति की मौत के 3 साल बाद मां बनी विधवा महिला, यहां जानिये कैसे

पहले के जमाने में अगर कोई महिला मां नहीं बन पाती थी, तो उसे काफी ताने सुनने पड़ते थे। इसके बाद कई मर्द दूसरी शादी तक कर लेते थे। लेकिन आज विज्ञान इतनी तरक्की कर चुका है कि कुछ भी असंभव नहीं है। पहले जहां प्रेग्नेंट ना होने पर बच्चा गोद लेने का ऑप्शन रहता था, आज आईवीएफ से उसे भी फेल कर दिया है। इंग्लैंड की ब्रिस्टल में रहने वाली एक महिला ने कुछ महीने पहले जुड़वा बच्चों को जन्म दिया। ये बच्चे उसके पति के हैं। सबसे हैरत की बात तो ये बच्चे पति की मौत के तीन साल बाद पैदा हुए। महिला के पति की मौत तीन साल पहले गले के कैंसर के कारण हुई थी। लेकिन मरने से पहले उसके पति ने अपनी पत्नी की प्रेग्नेंसी का इंतजाम कर दिया था।

सोशल मीडिया पर इंग्लैंड की रहने वाली 37 साल की लूसी कैसल ने अपनी प्रेग्नेंसी के बारे में लोगों के साथ शेयर किया। उन्होंने बताया कि कैसे पति की मौत के तीन साल बाद उन्होंने अपने जुड़वा बच्चों को जन्म दिया।

दरअसल, लूसी ने 2012 में डेविड से शादी की थी। लेकिन इसके बाद डेविड को गले में कैंसर हो गया। जिस कारण 2017 में उसकी मौत हो गई।

पति की मौत से पहले भी लूसी ने प्रेग्नेंट होने की कोशिश की थी लेकिन नाकमयाब हुई थी। लेकिन डेविड समझ गए थे कि अब उनके पास ज्यादा समय नहीं है। इस कारण मरने से पहले उन्होंने एक फैसला किया।

डेविड ने मौत से पहले अपने स्पर्म स्टोर करवाए। ऐसा इसलिए ताकि भविष्य में लूसी उनके बच्चे की मां बन पाए। पति को खोने के बाद लूसी काफी सदमे में थी। लेकिन धीरे-धीरे उन्होंने हिम्मत बटोरी।

उन्होंने दो बार अपने पति के फ्रोजन स्पर्म से प्रेग्नेंट होने की कोशिश की लेकिन नाकामयाब हो गई। डॉक्टर्स ने भी उम्मीद छोड़ दी थी। लेकिन 2019 में आखिरकार लूसी सफल हुई।

अब लूसी ने अपने पति की मौत के बाद  जुड़वा बच्चों को जन्म दिया है। उन्होंने बताया कि अभी डेविड जिन्दा होता तो अपने बच्चों का बेहतरीन पिता बनता।

लूसी ने कहा कि बच्चों को जन्म देते हुए एक पल के लिए ऐसा लगा जैसे डेविड उसके पास ही खड़ा है। इनमें से एक बच्चे की आंखें बिलकुल डेविड जैसी है। तमाम मुश्किलों के बावजूद आखिर लूसी ने प्रेग्नेंट होकर डेविड के बच्चों को जन्म दे दिया।

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news