पहले 3 बच्चों की मां के प्राइवेट पार्ट में डाली बीयर की बोतल, फिर लगा दी आग

महिला के भाई ने बताया कि उसकी बहन के साथ है यह जघन्य कृत्य अवैध संबंधों के शक पर किया गया। आरोपियों ने लोहे के तार से उसके हाथ पैर बांध दिए। और आधे मुंह जमीन में पटकते हुए उसके कपड़े फाड़ दिए। इसके बाद गर्म सरिया से जगह-जगह महिला को दागा गया। दर्द और जलन से महिला चिल्लाई तो आरोपियों ने उसका मुंह बंद कर दिया। इस दर्द से जब महिला अचेत हो गई तो आरोपियों ने उस को मरा समझ लिया और झोपडी में कपडें पहनाकर छोड़ कर चले गए। जब महिला को होश आया तो आरोपियों ने उसको कहीं जाने नहीं दिया। बार-बार महिला ने मिन्नतें की कि वह वारदात के बारे में किसी को नहीं बताएगी लेकिन किसी ने नहीं सुनी।

आरोपियों ने जमीदार की झोपड़ी में महिला को पटक दिया और वही उसका उपचार करते रहे। इसी बीच 21 जून को महिला के भाई को सूचना लगी तो वह अपने परिवार के साथ है वहां पहुंचा । जब वह अपनी बहन को अपने साथ ले जाने लगा तो आरोपियों ने महिला को जाने नहीं दिया। फिर ग्रामीणों के सहयोग से महिला को अपने साथ ले गया। वही पीड़िता के भाई का कहना है कि उसकी बहन के साथ पहले भी आरोपियों की ओर से कई बार मारपीट की जा चुकी है ।

loading…