दिन में केवल एक बार आता है यह “गोल्डन मिनट”, जब होती है मन की मुराद पूरी…

यूं तो ईश्वर को किसी ने नहीं देखा। पर कहते हैं की भगवान अपने होने का एहसास कहीं भी, कभी भी और किसी भी तरीके से करा सकते हैं। लोगों का मानना है की सच्चे दिल से मांगी हुई दुआ भगवान ज़रूर पूरी करता है। जानकारों की मानें तो पूरे दिन में एक पल ऐसा आता है जब आपकी मुराद पूरी हो सकती है। मनुष्य जो भी मांगे उसे मिल सकता है। इस पल या मिनट को गोल्डन मिनट के नाम से जाना जाता है। पर कब आता है यह गोल्डन मिनट? पूरे दिन में कौन सा है वो पल जिसमें हम अपनी मुराद पूरी कर सकते हैं?

कैसे करें गोल्डन मिनट की गणना- गोल्डन मिनट को कैलकुलेट करने के लिए महीने और दिन को ध्यान में रखना होगा। उदाहरण के तौर पर मान लीजिये जुलाई का महीना चल रहा है और डेट 21 इसके आधार पर आपका गोल्डन मिनट 21:07 am और pm होगा। 21 जो की तारिख है और 7 जुलाई, यानि साल का सातवां महीना। तो आपका गोल्डन मिनट हुआ 9 बजकर 7 मिनट। चलिए एक और उदहारण लेते हैं। अभी अगस्त का महीना चल रहा है और आज की डेट है 13. तो आज का गोल्डन मिनट होगा 13:08 am और pm 13 जो की आज की तारिख है और 8 जो की अगस्त, यानि साल का आठवां महीना। इस आधार पर गोल्डन मिनट हुआ 1 बजकर 8 मिनट पर।

25 से 31 तारिख के बीच ऐसा नहीं करना। इन तारिख पर हम इसका उल्टा काउंट करेंगे। मान लीजिये अगर आप 28 अगस्त का गोल्डन मिनट जानना चाहते हैं, तो आपको इसका उल्टा करना होगा। अब तक हम डेट को पहले और महीने को बाद में गिन रहे थे। अब हम महीने को पहले और डेट को बाद में कर देंगे, तो 28 अगस्त का गोल्डन मिनट हुआ 08:28 am और pm ठीक इसी प्रकार बाकी दिन के भी गोल्डन मिनट आप कैलकुलेट कर सकते हैं।

loading…