लाश को हाथ लगाना पड़ा महंगा! 21 लोगों की मौत, गांव में फैली दहशत

जयपुर। राजस्थान में एक अनोखा सनसनीखेज मामला सामने आया है। राज्य के सीकर जिले के खीरवा गांव में एक शव को छूने से 21 लोगों की मौत होने से गांव में दहशत का माहौल है।

जानकारी के अनुसार, गांव के एक शख्स का शव 21 अप्रेल को गुजरात से आया था। जिसे छूने की वजह से गांव में कोरोना संक्रमण (COVID-19) फैलने व अब तक 21 लोगों की मौत होना सामने आया है। इसी जानकारी को शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा (govind singh dotasara) ने सोशल मीडिया पर साझा किया है। जिसमें उन्होंने एक शव की वजह से गांव में कोरोना संक्रमण से 20 लोगों से अधिक की मौत होने का इषारा करते हुए मौके पर चिकित्सकों का दल भेजने की बात साझा की है।

शव को किट से निकाल लिया बाहर
गांव का एक मोहम्मद अजीज नाम का शख्स गुजरात में कारोबार करता था। वहां उसकी मौत होने पर 21 अप्रेल को उसका शव बॉडीकिट में पैक कर गांव लाया गया था। शव को सीधे कब्रिस्तान ले जाने की बजाय परिवार घर पर ले आया। प्रशासनिक सुत्रों के अनुसार ग्रामीणों ने उस शव को किट से बाहर निकाल लिया। जिसके बाद उसके जनाने में भी काफी लोग शामिल हुए थे। लोगों ने लापरवाही की वजह से संक्रमण फैल गया।

इस घटना की जानकारी खुद पीसीसी चीफ व शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने सोशल मीडिया पर साझा की है और गांव में चिकित्सकों की विशेष टीम भेजने की जानकारी भी फोटो सहित देत हुए पोस्ट में लिखा है कि…

विधानसभा लक्ष्मणगढ़ के गांव खीरवा में गुजरात से आए एक पार्थिव शरीर के छूने की वजह से आज पूरा गांव खतरे में है। बड़े दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि इस गांव के 20 से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं और कई संक्रमित हैं। उन्होंने आगे लिखा है कि, यह सीख है उन सभी लोगों के लिए जो कोरोना को गंभीर नहीं लेने की गलती करते हैं। बहुत जल्द सरकार कुछ कड़े फैसले लेगी जिससे यह संक्रमण की संख्या कम होने की उम्मीद है। तब तक घरों में रहिए, सुरक्षित रहिए।