मोदी की मंत्री बोली, बीजेपी कार्यकर्ताओं को कमजोर न समझना, बेल्ट से ठोकना जानती हूं

रायपुर.केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह ने छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले में सीईओ और तहसीलदार की जमकर क्लास ली. मंत्री ने युवक से बदतमीजी करने वाले अधिकारियों नसीहत दी और कहा, ’भगवाधारी भाजपा के कार्यकर्ताओं को कमजोर न समझना, अंधेरी कोठरी में बेल्ट से ठोकना जानती हूं.’
बलरामपुर जिले के क्वारनटीन सेंटर में युवक दिलीप गुप्ता ने अपने परिजनों के साथ मारपीट का आरोप लगाया है. यह आरोप जनपद पंचायत के सीईओ और तहसीलदार पर लगा है. मामले की जानकारी मिलते ही केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह ने इस मामले पर संज्ञान लिया और उन्होंने क्वारनटीन सेंटर पहुंचकर युवक से बातचीत की और घटनाक्रम जाना. मामले की जानकारी मिलने के बाद केंद्रीय मंत्री बेहद नाराज दिखीं. उन्होंने कहा कि जिस तरह का कृत्य युवक के साथ किया गया है, यह काफी अशोभनीय है. उन्होंने कहा कि जनपद सीईओ और तहसीलदार ने युवक के साथ मारपीट की है. नाराज रेणुका सिंह ने जनपद सीईओ और तहसीलदार को जमकर फटकारा. केंद्रीय मंत्री ने कहा, ’इस मामले पर मैं न्याय दिलाकर रहूंगी.’ क्वारनटीन सेंटर में युवक के साथ मारपीट की शिकायत मिली थी, जिसके बाद वह पहुंची हैं और यहां आने के बाद उन्होंने देखा कि युवक के साथ मारपीट की गई है.
दरअसल यह मामला बलरामपुर जिले के क्वारनटीन सेंटर से जुड़ा हुआ है. जहां दिल्ली से लौटे दिलीप गुप्ता को क्वारनटीन सेंटर में रखा गया है. दिलीप गुप्ता ने क्वारनटीन सेंटर पर आरोप लगाते हुए कहा कि यहां ठीक से खाना नहीं मिलता है और बुनियादी सुविधाएं भी सही नहीं हैं. इस पर उसने कई बार वहां के अधिकारियों से बात की, लेकिन इसका कोई हल नहीं निकला, तो दिलीप गुप्ता ने अंत में सोशल मीडिया में इन सभी बातों की वीडियो वायरल कर दी. इसके बाद दिलीप गुप्ता ने आरोप लगाया कि जनपद सीईओ और तहसीलदार ने उसके साथ मारपीट की, उसके बाल खींचे और उसका मोबाइल छीनने के लिए उसे धकेला. इसकी वजह से वह पीछे रखी ईंट से टकरा गया और उसकी पीठ में काफी चोट लगी है.

loading…