नर्स ने एक ही लड़की को लगा दिए कोरोना वैक्सीन के 6 डोज, फिर…

भारत सहित दुनिया के कई देशों ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए वैक्सीनेशन की प्रक्रिया तेज कर दी है. भारत में अब जाकर 18 से ऊपर के लोगों को वैक्सीन की सुविधा दी गई है. इससे पहले 45 साल से ऊपर वालों को ही वैक्सीन दी जा रही थी. भारत में वैक्सीनेशन के लिए लोगों को स्लॉट बुक करने में काफी परेशानी हो रही है. एक डोज के लिए लंबा इन्तजार करना पड़ रहा है. वहीं इटली में डॉक्टर्स की लापरवाही की वजह से एक ही लड़की को 6 वैक्सीन की डोज दे दी गई.

Pfizer के मिले 6 डोज

मामला 9 मई का बताया जा रहा है. इटली में 23 साल की एक स्टूडेंट को Nao हॉस्पिटल में एक ही दिन में 6 बार कोरोना वैक्सीन दे दी गई. वैक्सीनेशन में हुई इस घोर लापरवाही की चर्चा दुनिया भर में हो रही है. न्यूज एजेंसी AGI की रिपोर्ट के मुताबिक, 6 डोज के बाद अस्पताल में हड़कंप मच गया था. सभी चिंतित हो गए थे कि इतने डोज का जाने लड़की की बॉडी पर कैसा असर होगा. इस वजह से लड़की को 24 घंटे मेडिकल ऑब्जर्वेशन में रखा गया.

नहीं हुआ कोई साइड इफेक्ट
Nao हॉस्पिटल के डायरेक्टर Dr Antonella Vicenti ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि महिला को कोई साइड इफेक्ट नहीं हुआ. उसे 24 घंटे ऑब्जर्वेशन में रखा गया था. Pfizer की इतनी लार्ज डोज के बाद सबको डर था कि जाने इसका क्या अंजाम होगा? लेकिन लड़की को ना तो बुखार आया ना ही दर्द हुआ. हालांकि, 6 डोज मिलने के बाद लड़की डरी हुई थी.

लगातार होगी लड़की की मॉनिटरिंग

6 डोज के 24 घंटे बाद तक लड़की को निगरानी में रखा गया. इसके बाद जब कोई साइड इफेक्ट्स नहीं दिखे तो उसे डिस्चार्ज कर दिया गया. हालाँकि. डॉक्टर्स ने कहा कि अब इस लड़की को लगातार मेडिकल ओब्जेर्वेशन के लिए बुलाया जाएगा. देखने के लिए क्या इसकी वजह से लड़की की बॉडी पर कोई असर पड़ा है या नहीं? बता दें कि इससे पहले एक स्टडी में सामने आया था कि Pfizer के 4 डोज ही कोई इंसान बर्दास्त कर पाता है. अब इस लड़की को 6 डोज मिलने के बाद सभी चिंतित है.