जयमाला के दौरान शादी के मंडप में हुआ कुछ ऐसा, दूल्हे ने शादी से किया इनकार

अमरोहा: उत्तर प्रदेश के अमरोहा में शादी समारोह के दौरान मारपीट की घटना के बाद दूल्हे ने शादी से इनकार कर दिया. घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पुलिस पहुंची और मामले को शांत कराया. घायलों को सीएचसी में भर्ती कराया गया है. मामले में दोनों पक्षों की ओर से एक-दूसरे के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए, रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए तहरीर दी गई है.

लड़की पक्ष ने लगाया दहेज मांगने का आरोप
लाइव हिंदुस्तान की रिपोर्ट के अनुसार, अमरोहा जिले के गजरौला के बसंत विहार इलाके में मुरादाबाद के मझोला से रविवार को एक बारात आई थी. लड़की वालों का आरोप है कि जयमाला के दौरान लड़के वालों ने दहेज में एक लाख नकद और बुलेट की मांग की. लड़की वालों का कहना है कि दहेज को लेकर शादी से इनकार करने के बाद बवाल शुरू हुआ और शादी समारोह में अफरा-तफरी मच गई.

दूल्हा पक्ष ने कहा- पंखा गिरने के बाद शुरू हुआ विवाद

दूल्हे पक्ष के लोगों ने दहेज के आरोप को झूठ करार दिया और कहा कि पांडाल में लगा पंखा गिरने के बाद विवाद शुरू हुआ. इसी को लेकर पहले कुछ देर कहासुनी हुई और दोनों पक्षों के लोगों ने एक दूसरे पर कुर्सी-मेज फेंकनी शुरू कर दी, जिससे 15 लोग घायल हो गए. दूल्हे पक्ष ने लड़की पक्ष पर सोने के कुंडल और नकदी लूटने के आरोप लगाए.

घटना के बाद दूल्हे ने शादी से किया इनकार
घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले को शांत कराया और दोनों पक्षों के बीच समझौते के प्रयास भी किए, लेकिन गुस्साए दूल्हे ने शादी करने से इनकार कर दिया. इसके बाद देर रात बराती दुल्हन के बिना ही वापस लौट गए और शादी के लिए की गई सारी तैयारियां भी धरी रह गईं.

पुलिस कर रही है मामले की जांच
एसएसआई प्रमोद कुमार पाठक ने बताया कि गजरौला के बसंत विहार निवासी गोविंद सिंह की बेटी पायल की शादी मुरादाबाद के मझोला थाना क्षेत्र की कांशीराम कॉलोनी निवासी रिटायर्ड पीएसी सिपाही केवन सिंह के बेटे सौरव के साथ तय हुई थी. रविवार को जयमाला के दौरान दोनों पक्ष में किसी बात को लेकर विवाद शुरू हुआ और फिर मारपीट में करीब 15 लोग घायल हो गए. दोनों पक्षों की ओर से तहरीर मिली है और जांच कर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी.