छत्तीसगढ़ में ₹580 किलो हुए टमाटर, दाम को लेकर जनता लाल

रायपुर। छत्तीसगढ़ के कांकेर के क्वारंटाइन सेंटर में टमाटर के दाम को लेकर प्रदेश की सियासत लाल हो गई। सूचना के अधिकार में निकाले दस्तावेज के आधार पर दावा किया गया कि क्वारंटाइन सेंटर में 580 रुपये किलो की दर से टमाटर की खरीदी हुई। जैसे ही यह खबर सामने आई, भाजपा और कांग्रेस के नेता सक्रिय हो गए। कांग्रेस नेताओं की ओर से सब्जी खरीदी की रेट लिस्ट को चेक किया गया। इसके बाद कांग्रेसी सरकार के बचाव में उतर गए। भाजपा ने एक कदम आगे बढ़ते हुए न सिर्फ सरकार पर हमला बोला, बल्कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को भी घेरने से पीछे नहीं रहे। सोशल मीडिया पर बयानों के तीर ने सियासी तड़का लगाने का काम किया।

कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने सब्जी विक्रेता के बिल को ट्वीट करके कहा, सब्जी के रेट तक में बोल रही है झूठ, भाजपा के पापों का घड़ा गया फूट। त्रिवेदी ने कहा कि भूपेश सरकार की गलतियां तलाश करने की हड़बड़ी में भाजपा का गणित गड़बड़ा गया। एक कैरेट टमाटर को एक किलो गिन लिया गया। छत्तीसगढ़ के गांव, गरीब और किसानों के लिए समर्पित कांग्रेस सरकार के जनहित के कार्यों से भाजपा नेताओं के पेट में दर्द हो रहा है। भाजपा का एक और झूठ पकड़ाया। एक कैरेट टमाटर के दाम को एक किलो का दाम बोलकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और नेताओं ने झूठे बयान दिए। इनकी गलतबयानी से विश्वसनीयता समाप्ति की ओर है।

भाजपा ने शैलेश के ट्वीट को छत्तीगसढ़ भाजपा ने आधिकारिक ट्विटर पर रिट्वीट करके कहा-झूठ, फरेब, बेइमानी, भ्रष्टाचार, कदाचार में कांग्रेस को महारत हासिल है। कोरोना के इस संकट में लूट पर लगाम लगाने के बदले वह भाजपा पर ही पिल पड़ती है। बकायदा आरटीआइ से प्राप्त सूचना के आधार पर यह खबर है। और हां, रसीद तो सही जुगाड़ते भाई, आरोप 580 रुपये का है, 550 का नहीं। खुलेआम भ्रष्टाचार की इस करतूत पर बजाय कारवाई के जिस तरह पार्टी को ही बचाव में झोंक दिया गया है, इससे साफ जाहिर है कि टमाटर से ऊपर तक लाल हुए हैं लोग भूपेश बघेल जी। मलीन चेहरे की गर्द झाड़िए, आईने पर बौखलाने से कुछ नहीं होगा।

पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने ट्वीट किया-विधानसभा सत्र के दौरान कोरोना में लंबे-लंबे भाषण देने वाली सरकार में क्या इस घटना की जांच कराने की थोड़ी नैतिकता है? टमाटर 580 रुपये किलो की दर है, तो बाकी सब्जियों का दर क्या है, सरकार उजागर करे? भाजपा नेता ओपी चौधरी ने ट्वीट किया-छत्तीसगढ़ की जनता देख रही है कि किस तरह से सरकार काम कर रही है? किसान भाइयों को एक क्विंटल टमाटर के बदले में मुश्किल से जितने पैसे मिल रहे हैं, उतने में यहां एक किलो टमाटर खरीदा जा रहा है।

कांग्रेस नेता ने लगाया जाति का तड़का
कांग्रेस संचार विभाग के सदस्य संदीप साहू ने कहा कि आज विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं रह गया, वह सरकार को बदनाम करने के लिए तिल का ताड़ बिना सोचे समझे बनाकर दुष्प्रचार कर रही है। 580 रुपये किलो टमाटर की खबर फैलाने वाले यह भी नहीं देख पाए कि यह कीमत एक कैरेट की है या एक किलो की। यह बहुत दुर्भाग्यजनक है कि जनहित में काम कर रही सरकार को बदनाम करने के लिए भाजपा ने एक साहू समाज के युवा सब्जी विक्रेता को अपना निशाना बनाया। भगवती सब्जी भंडार कि इस बिल को आधार बनाकर भ्रामक खबर फैलाया जा रहा है। इसमें वास्तविकता कुछ और ही है, जिसे स्वयं सब्जी विक्रेता ने स्पष्ट किया है।

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news

loading…


Trending Posts