शादी पर टूटा कोरोना का कहर, दूल्हे की मौत, 95 मेहमान भी मिले कोरोना पॉजिटिव, मचा हडकंप

पटना। बिहार की राजधानी पटना में सोमवार को एक साथ 95 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए और दूल्हे की मौत हो गई है. पूरा मामला पटना से तकरीबन 50 किलोमीटर दूर पालीगंज इलाके का है, जहां पर 15 जून को एक शादी में शामिल 95 मेहमान कोरोना संक्रमित हो गए. इनमें से 80 लोगों की कोरोना रिपोर्ट सोमवार को पॉजिटिव आई.


जानकारी के मुताबिक, 30 वर्षीय दूल्हा गुरुग्राम में सॉफ्टवेयर इंजीनियर का काम करता था और शादी करने के लिए 12 मई को पटना अपने गांव डीहपाली आया था. इसी दौरान उसके अंदर कोविड-19 के लक्षण पाए गए मगर परिवार वालों ने जांच कराने के बजाए उसकी शादी करवा दी. शादी के 2 दिन बाद ही उसकी तबीयत काफी बिगड़ गई और पटना एम्स ले जाने के दौरान ही उसकी मौत हो गई. इस पूरे मामले की भनक जब जिला प्रशासन को लगी तो शादी में शरीक हुए सभी मेहमानों की कोरोना जांच कराई गई. जांच के बाद 15 लोग कोविड-19 से संक्रमित पाए गए और अन्य 80 लोगों का रिपोर्ट सोमवार को पॉजिटिव आया. हालांकि, कोविड-19 जांच में दुल्हन संक्रमित नहीं मिली और उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है. प्रशासन ने बताया है कि इस पूरे मामले में कोविड-19 के बचाव के नियमों की धज्जियां उड़ाई गई. प्रशासन ने किसी भी विवाह समारोह में केवल 50 लोगों के शिरकत करने की इजाजत दे दी हुई है मगर इस शादी गांव के सैकड़ों लोग शामिल हुए थे.
इससे पहले राजस्थान के भीलवाड़ा में एक शादी समारोह में 250 लोगों को बुलाना दूल्हे के घरवालों पर भारी पड़ गया. बारात में कोरोना का संक्रमण ऐसा फैला कि शादी समारोह में हिस्सा लेने वाले 15 लोग संक्रमित हो गए. जबकि कोरोना की वजह से दूल्हे के दादा की मौत भी हो गई. दूल्हा और उसके पिता समेत सभी 15 लोगों को अस्पताल में पर भर्ती कराया गया था. राजस्थान सरकार ने बारात में गए 127 लोगों को क्वारनटीन किया है और इनके क्वारनटीन फैसिलिटी और इलाज पर होने वाले खर्च का जुर्माना दूल्हे के पिता पर लगाया है. अभी तक 6 लाख 26 हजार 600 रुपये का खर्च क्वारनटीन फैसिलिटी और कोरोना इलाज पर हुआ है.