बिहार मे अमित शाह ने सुलझाया सीट बंटवारे का मामला, देर रात हो सकती है घोषणा

पटना: बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के आवास पर बीजेपी की इस बैठक के बाद दिल्ली बुलाए गए जेडीयू (JDU) सांसद राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह और उसके बाद एलजेपी (LJP) प्रमुख चिराग पासवान से सीट शेयरिंग को लेकर बातचीत की जाएगी। हालांकि चिराग पासवान एनडीए (NDA) में रहेंगे या नहीं, इस पर अभी तक संशय कायम है। लेकिन, सीट शेयरिंग में अमित शाह की एंट्री के बाद अनुमान लगाया जा रहा है कि, एलजेपी को भी मन मुताबिक सीट देकर एनडीए में ही बनाए रखने की कोशिश की जाएगी।

बिहार बीजेपी प्रभारी ने कहा- एलजेपी जेडीयू हम और बीजेपी साथ लड़ेगी चुनाव
बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के आवास पर हुए बैठक के बाद बिहार बीजेपी प्रभारी और बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री भूपेंद्र यादव ने कहा कि, एनडीए में सभी लोग एक साथ हैं और सभी एक साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि बिहार बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल ने बैठक में बिहार की वर्तमान राजनीतिक हालात और सीटों को चार कैटेगरी में (A, B, C, D) बांटकर पूरी स्थिति से अवगत करा दिया है। अब इन सीटों पर चर्चा करने के बाद तय किया जाएगा कि कौन पार्टी कहां से चुनाव लड़ेगी। उन्होंने यह भी कहा कि एक से दो दिन में एनडीए के नए स्वरूप की भी घोषणा कर दी जाएगी।

बिहार चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस ने कहा एनडीए में सब ठीक है
महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस को बिहार चुनाव प्रभारी बनाए जाने की आज विधिवत घोषणा भी कर दी गई। जेपी नड्डा के आवास पर सीट शेयरिंग को लेकर चल रही बैठक खत्म होने के बाद देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि बिहार में एनडीए चट्टान की तरह मजबूत है। उन्होंने यह भी कहा कि इस बार फिर से बिहार में तीन चौथाई बहुमत के साथ नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही सरकार बनेगी। आपको बता दें कि दो दिन पहले बिहार दौरे पर पहुंचे देवेंद्र फडणवीस ने आरजेडी नेता तेजस्वी यादव पर जोरदार हमला किया था। उन्होंने कहा था कि गलती से भी आरजेडी की सरकार बनी तो तेजस्वी यादव 10 लाख युवा को रोजगार देने के नाम पर, अपने पहले कैबिनेट की बैठक में 10 लाख तमंचे का ऑर्डर देंगे। उसके बाद उसे युवाओं में बैठकर अपने पिता की तरह अपहरण उद्योग में रोजगार देने का काम भी करेंगे।

बीजेपी का प्लान ‘बी’ भी है तैयार
सीट शेयरिंग में पेंच फंसाने वाले और नीतीश कुमार पर लगातार हमला हमला बोलने वाले, चिराग पासवान को लेकर बीजेपी ने प्लान ‘बी’ भी तैयार कर रखा है। आज उन्हें एनडीए में बनाए रखने की हर संभव कोशिश की जाएगी। बताया गया कि अगर चिराग पासवान मान गए तो एलजेपी को ज्यादा सीटें देने पर भी बीजेपी विचार कर सकती है लेकिन, अगर चिराग पासवान अपनी जिद पर अड़े रहे तो एलजेपी कोटे की सीट जेडीयू और बीजेपी आपस में बांट लेंगे। बताया जा रहा है कि चिराग पासवान के नखरे को अब बीजेपी भी बर्दाश्त करने के मूड में नहीं है। इसके पीछे की वजह यह है कि जीतन राम मांझी की वापसी एनडीए में हो चुकी है। इसके अलावा नीतीश कुमार ने भी महादलित वर्ग से आने वाले अशोक चौधरी को जेडीयू का कार्यकारी अध्यक्ष बनाकर दलितों के बीच बड़ा संदेश दे दिया है।

आज देर शाम तक हो सकती है सीट बंटवारे की घोषणा
बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के आवास पर सीट शेयरिंग को लेकर बीजेपी के नेताओं द्वारा की बैठक खत्म होने के बाद, सहयोगी दल के नेताओं के साथ बैठक की जा रही है। सूत्र बताते हैं कि बीजेपी और जेडीयू के बीच से जिन सीटों को लेकर मामला फंसा हुआ था वह पहले ही सुलझा लिया गया है। मिली जानकारी के अनुसार जीतन राम मांझी की सीटों की जिम्मेदारी जेडीयू के ऊपर होगी यानी मांझी के कोटे की सीट जेडीयू के खाते में दे दी जाएगी। इसके बाद जेडीयू और मांझी ही मिलकर तय करेंगे कि उन्हें किन सीटों पर कहां से चुनाव लड़ना है। जानकारी के अनुसार सीट शेयरिंग को लेकर चल रहे एनडीए के इस मैराथन बैठक के बाद, आज शाम को ही सीट बंटवारे की घोषणा कर दी जाएगी। यानी यह पता लग जाएगा कि एनडीए के घटक दल कहां से चुनाव लड़ेंगे।

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news