बिहार में पंचायत चुनाव की तैयारी ने पकड़ा जोर, एक दर्जन असामाजिक तत्व किए थाना बदर

मधुबनी। पुलिस अधीक्षक के प्रस्ताव के आलोक में जिला दंडाधिकारी ने जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों के एक दर्जन असामाजिक तत्वों पर बिहार अपराध नियंत्रण अधिनियम, 1981 की धारा-3, उपधारा-3 के तहत कार्रवाई की है। जिला दंडाधिकारी ने इस कार्रवाई के तहत जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों के एक दर्जन असामाजिक तत्वों को थाना बदर कर दिया है। आगामी पंचायत चुनाव-2021 को शांति एवं सौहार्दपूर्ण वातावारण में संपन्न कराने की प्रक्रिया पूर्ण होने तक अथवा आदेश निर्गमन की तिथि से छह माह तक (जो भी पहले हो) के लिए थाना बदर किया गया है।

जिस असामाजिक तत्वों को थाना बदर किया गया है, उसे प्रतिदिन किस थाना में सुबह एवं शाम में अपनी सदेह उपस्थिति दर्ज करनी है, इसका भी निर्धारण कर दिया गया है। थाना बदर किए गए असामाजिक तत्वों को निर्धारित किए गए थाना में प्रत्येक तिथि को सुबह में 10 से 11 बजे के बीच एवं शाम में पांच से छह बजे के बीच सदेह उपस्थित होने का आदेश जिला दंडाधिकारी ने दिया है। जिन असामाजिक तत्वों को थाना बदर किया गया है, उन सभी के खिलाफ आपराधिक कांड भी थानों में पहले से दर्ज हैं।

किसी के खिलाफ मद्य निषेध अधिनियम के तहत तो किसी के खिलाफ हत्या, लूट, आर्म्स एक्ट से लेकर डकैती तक के कांड भी दर्ज है। थाना बदर किए गए एक दर्जन असामाजिक तत्वों में से आठ लोगों के विरुद्ध केवल मद्य निषेध अधिनियम के तहत ही पहले से कांड दर्ज है। उक्त जानकारी जिला जनसंपर्क पदाधिकारी ने दी। बताया कि जिन असामाजिक तत्वों के विरुद्ध थाना बदर की कार्रवाई की गई है, उसमें रहिका थाना क्षेत्र के दिनेश यादव व खुर्शीद उर्फ चुन्नू, पंडौल थाना क्षेत्र के शिवजी साह, शिव शंकर साह उर्फ शंकर साह व संतोष पंजियार, बासोपट्टी थाना क्षेत्र के मालिक यादव उर्फ रामप्रसाद यादव व राम पुकार यादव, झंझारपुर थाना क्षेत्र के दो सगा भाई मुमताज नट व मुस्तकीम नट, जाजीम नट, खुटौना थाना क्षेत्र के सिकन्दर यादव एवं जयप्रकाश यादव शामिल हैं।

जिला दंडाधिकारी ने उक्त सभी असामाजिक तत्वों को थाना बदर कर दिया है। थाना बदर की अवधि में प्रत्येक दिन सुबह एवं शाम में दिनेश यादव को पंडौल थाना, खुर्शीद उर्फ चुन्नू, मुमताज नट व शिव शंकर साह उर्फ शंकर साह को राजनगर थाना, शिवजी साह व जाजीम नट को रहिका थाना, मालिक यादव उर्फ रामप्रसाद यादव को फुलपरास थाना, मुस्तकीम नट को बिस्फी थाना, राम पुकार यादव व जय प्रकाश यादव को मधेपुर थाना, संतोष पंजियार को झंझारपुर थाना, सिकन्दर यादव को मधवापुर थाना में सदेह उपस्थित होने का आदेश दिया गया है। जिला दंडाधिकारी ने संबंधित थानाध्यक्षों को आदेश दिया है कि थाना बदर किए गए उक्त असामाजिक तत्वों की सदेह उपस्थिति दर्ज करने के लिए अलग से उपस्थिति पंजी संधारित करें।