कोरोना कहर के बीच आ रहा भीषण चक्रवाती तूफान, नौसेना अलर्ट पर, देश के इन राज्यों में…

कोलकाता : बंगाल की खाड़ी में उत्पन्न चक्रवाती तूफान ‘अम्फन’ के अगले कुछ घंटों में तेजी से ओडिशा व बंगाल की ओर बढ़ने एवं सोमवार तक इसके भयंकर चक्रवाती तूफान में तब्दील होने के खतरे को देखते हुए भारतीय नौसेना इससे निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। शनिवार को एक बयान में बताया गया कि पूर्वी नौसेना कमान (ईएनसी) राहत कार्यों के लिए हाई अलर्ट पर है और आवश्यक मानवीय सहायता प्रदान करने के लिए पूरी तैयारी की है। विशाखापत्तनम में नौसेना के जहाज राहत सामग्रियों के साथ तैनात हैं ताकि सूचना मिलते ही सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों में तुरंत मदद व चिकित्सा सहायता पहुंचाई जा सके।

इन जहाजों को अतिरिक्त गोताखोरों, डॉक्टरों और राहत सामग्रियों के साथ तैयार रखा गया है। इन जहाजों में भोजन, कपड़े, दवाएं, कंबल आदि पर्याप्त मात्रा में रखे गए हैं। इसके अतिरिक्त, ओडिशा और बंगाल में बचाव और राहत प्रयासों को बढ़ाने के लिए जेमिनी बोट्स और मेडिकल टीमों के साथ 20 बचाव दल भी तैयार रखे गए हैं। इसके साथ नौसेना के एयरक्राफ्ट को भी तैयार रखा गया है ताकि आवश्यक हो तो बचाव और आकस्मिक निकासी के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। वहीं, पूर्वी नौसेना कमान बंगाल की खाड़ी के घटनाक्रमों की बारीकी से निगरानी कर रहा है और नेवल ऑफिसर इंचार्ज (पश्चिम बंगाल) और (ओडिशा) संबंधित राज्य प्रशासन के साथ निरंतर संपर्क में हैं ताकि बचाव और राहत कार्यों को आवश्यकतानुसार बढ़ाया जा सके।

उल्लेखनीय है कि तेजी से बढ़ रहे इस चक्रवाती तूफान से बंगाल में आंधी- तूफान के साथ मूसलाधार बारिश की आशंका से भारी नुकसान की संभावना है। राज्य सरकार ने भी तटवर्ती इलाकों में हाई अलर्ट घोषित कर दिया है और कड़ी नजर रखी जा रही है। मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की चेतावनी के साथ समुद्र के किनारे रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने का प्रबंध किया जा रहा है। इस चक्रवाती तूफान के मंगलवार को बंगाल व ओडिशा तट के करीब पहुंचने की संभावना है। इसके कारण 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं।

loading…