अगर आप भी सोते समय लगाते हैं तकिया, तो यह खबर जरूर पढ़ें

कुछ लोगों को बिना तकिए के अच्छी नींद आती है तो कुछ लोगों को बिना तकिए के नींद ही नहीं आती है। लेकिन एक्सपर्ट्स का कहना है कि मोटा या पतला तकिया आपको कई सीरियस हेल्थ प्रॉब्लम्स दे सकता है। आइए बताते हैं कि तकिए का चुनाव के लिए आपको किन बातों का ख्याल रखना होगा।

1.खर्राटे- तकिया बहुत मोटा हो तो गर्दन चिन की तरफ झुक जाती है। इससे खर्राटे आने की प्रॉब्लम हो सकती है। ऐसे ही तकिया बहुत पतला होने पर सांस की नली थोड़ी बंद हो जाती है, जिससे खर्राटै आते हैं।

2.पिंपल्स- तकिए का कवर काफी समय तक बिना धोए इस्तेमाल करने से उसमें बैक्टीरिया हो जाते हैं। इससे चेहरे पर पिंपल्स हो सकते हैं।

3.ब्लड सर्कुलेशन- ज्यादा ऊंचा तकिया यूज करने से ब्लड सर्कुलेशन सही तरह से नहीं हो पाता है। ऐसे में स्किन और पेट से जुड़ी प्रॉब्लम्स हो सकती हैं।

4.सर्वाइकल स्पॉन्डिलाइटिस- बहुत हार्ड तकिया लगाकर सोने पर बॉडी को पूरी तरह से आराम नहीं मिल पाता। सिर पर दबाव भी पड़ता है। इससे सर्वाइकल स्पॉन्डिलाइटिस की प्रॉब्लम हो सकती है।

5.गर्दन का दर्द- ज्यादा सॉफ्ट तकिए का यूज करने पर बॉडी पॉश्चर बिगड़ता है। ऐसे में गर्दन और रीढ़ की हड्डी एक लाइन में नहीं रहते, जिसके कारण गर्दन में दर्द की प्रॉब्लम हो सकती है।

loading…