देश मे कोरोना का अलर्ट जारी: अगले 4 हफ्ते होगे बेहद खतरनाक, इन राज्यों में…

नई दिल्ली: देशभर में कोरोना तेजी से फैलता जा रहा है। कई राज्यों में तो इसकी हालात बेलगाम हो चुकी है। बढ़ते कोरोना को देखते हुए नीति आयोग ने चेतावनी जारी करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण को लेकर अगले 4 हफ्ते बहुत ही कठिन हैं। आखिर नीति आयोग ने ऐसी चेतावनी क्यों दी है, तो चलिए आपको बताते हैं… दरअसल, देश में कोरोना एक बार फिर तेजी से पैर पसार रहा है। बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने कहा, “उम्मीद है कि हम जल्द से जल्द इस महामारी की दूसरी लहर को कंट्रोल करेंगे। एक पॉजिटिव लहर, जनभागीदारी की बहुत जरूरी है। हमारे लिए अगले 4 हफ्ते बहुत क्रिटिकल हैं।” बता दें कि बीते 4 हफ्तों में कोरोना का ग्राफ तेजी से ऊपर की ओर बढ़ा है। जानकारी के मुताबिक, 10 से 16 मार्च तक देश में कोरोना के 2.75 हजार से भी ज्यादा केस सामने आए थे। वहीं चौथे हफ्ते में कोरोना संक्रमण का मामला 6 लाख के आकड़े को पार कर गया था। इस दौरान कोरोना से मरने वाले लोगों की संख्या में बढ़ोतरी भी देखी गई है। बढ़ते कोरोना के मामले को देख कर यह घोषित कर दिया गया कि देश में कोरोना की दूसरी लहर ने दस्तक दे दी है।

क्यों बढ़ रहा है कोरोना
कोरोना के बढ़ते संक्रमण ने कई राज्यों की हालत पस्त कर दी है। बढ़ते संक्रमण का कारण लोगों की लापरवाही है। लोग बेखौफ होकर घर से बाहर निकल रहे है। सरकार द्वारा बनाए गए कोरोना के गाइडलाइन का भी पालन भी ठीक ढंग से नहीं कर रहे है। जगह-जगह पर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई जा रही है, वो चाहे रेलवे स्टेशन हो, बस स्टॉप हो , मार्केट हो या फिर शॉपिंग मॉल। इसी लापरवाही के कारण महाराष्ट्र, केरल, दिल्ली, उत्तर प्रदेश जैसे कई राज्यों में कोरोना बेलगाम हो चुकी है।

महाराष्ट्र में बेलगाम हुआ कोरोना
बता दें कि महाराष्ट्र में बीते 24 घंटों में कोरोना के कुल 59,907 नए कोविड को मामले मामले सामने आए है, वहीं 322 मौतें हुई भी हैं। मुंबई में पिछले 24 घंटों में 10,428 नए COVID19 मामले और 23 मौतें हुई हैं, जबकि पुणे जिले में पिछले 24 घंटों में 10,907 नए COVID-19 मामले सामने आए है और 62 लोगों की मौतें हुई हैं। इसके अलावा दिल्ली में पिछले 24 घंटों में 5506 नए COVID19 मामले और 20 मौतें हुई हैं।

पिक पर आएगा कोरोना
उत्तर प्रदेश में भी कोरोना के 6023 नए के मामले मामले सामने आए है और 40 मौतें हुई हैं। IIT कानपुर की रिसर्च ने बताया है, ” यूपी में एक दिन में कोरोना के 10 हजार केस सामने आ सकते हैं और 21 से 25 अप्रैल तक कोरोना का पीक आएगा। दिल्ली में 26 से 30 अप्रैल के बीच पीक आ सकता है। हर दिन साढ़े 8 हजार केस सामने आ सकते हैं।”

बच्चे भी हो रहे संक्रमित
हैरत की बात ये है कि कोरोना की यह दूसरी लहर बच्चों को ज्यादा प्रभावित कर रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, “महाराष्ट्र में 1 मार्च से 4 अप्रैल के बीच 5 साल उम्र तक के 9882 बच्चे, 6 से 10 साल तक उम्र के 14660 और 11 से 17 साल एज ग्रुप में 36142 कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। वहीं छत्तीसगढ़ में 5 साल उम्र तक के 922 बच्चे, 6 से 10 साल तक उम्र के 1374 और 11 से 17 साल एज ग्रुप में 3644 कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। जबकि दिल्ली में 5 साल के 441 बच्चे 6 से 10 साल एज ग्रुप में 662 और 11 से 17 साल के 1630 केस पाए गए हैं।” ऐसे कई राज्य है, जहां कोरोना संक्रमण बच्चों को भी प्रभावित कर रही है। यही वजह है कि नीति आयोग ने कोरोना संक्रमण को लेकर अगले 4 हफ्ते बहुत ही कठिन बताया है।

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news