दिल्ली हिंसा में बडा खुलासाः दंगा कराने को इस शख्स ने खर्च किये थे डेढ करोड

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन ने 1.30 करोड़ खर्च करके दिल्ली के चांदबाद में दंगा कराया था। दिल्ली पुलिस ने इस साल फरवरी में हुए दंगों के मामले में मंगलवार को ताहिर समेत 15 के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया। कड़कड़डूमा कोर्ट 16 जून को इस पर संज्ञान लेगा।

1030 पन्ने के आरोपपत्र में ताहिर को चांदबाग में दंगे का मास्टरमाइंड बताया है। चार्जशीट में ताहिर के भाई शाह आलम समेत अन्य लोगों को भी आरोपी बनाया गया है। पुलिस ने आरोपपत्र में कहा है कि हिंसा के वक्त आरोपी ताहिर हुसैन अपनी छत पर मौजूद था और उसी ने इलाके में हिंसा भड़काई थी

दंगों से पहले आरोपी ताहिर हुसैन ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरकिता रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ प्रदर्शन में शामिल लोगों से बातचीत की थी। इस बीच उसने जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद और खालिद सैफी से भी बात की थी।

पुलिस ने आरोप लगाया कि दंगों की पूरी तैयारी पहले ही की गई थी। ताहिर हुसैन ने लोगों से बात की थी और उसी वक्त तय किया गया था कि जब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दिल्ली आएंगे, तब दिल्ली में दंगा कराया जाएगा।

हालांकि पुलिस ने इस चार्जशीट में उमर खालिद को आरोपी नहीं बनाया है और कहा कि उमर खालिद के साथ मीटिंग का मकसद अभी पता नहीं लगा है।  आरोपपत्र में पुलिस ने 75 गवाहों के नाम भी शामिल किए हैं।

loading…