गर्मी से बुरा हाल: अब मिलेगी लोगों को राहत, मौसम विभाग ने जारी किया बारिश का अलर्ट

नई दिल्ली: देश के अधिकतर हिस्सों में मौसम बदलने लगा है। दिल्ली-मुंबई समेत कई शहरों में समय से पहले ही तेज गर्मी ने दस्तक दे दी है। गर्मी के शुरुआती दिनों में ही पारा इतना ऊपर चढ़ रहा है कि मार्च में देश के कई हिस्सों में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक जाने की संभावना जताई जा रही है।

यहां रहेगा मौसम बेहद शुष्क
मौसम विभाग के विशेषज्ञों का भी कहना है कि मध्‍य और दक्षिण भारत में मौसम काफी ज्यादा शुष्क है और आने वाले समय में कोई बदलाव होने के आसार नहीं हैं। यहां पर मौसम की मार देखने को मिलेगी। वहीं उत्तर भारत में भी मार्च महीने के शुरुआती दिनों में तापमान बेहद तेजी से बढ़ा है और यहां लोगों को गर्मी का सितम झेलना पड़ रहा है।

क्या है समय से पहले गर्मी की वजह
अभी से लोगों को तेज गर्मी का एहसास हो रहा है। वरिष्‍ठ मौसम विज्ञानी महेश पालावत ने इसकी वजह बताते हुए कहा कि उत्‍तर भारत 4 फरवरी के बाद न तो बर्फबारी हुई है और ना ही बारिश। साथ ही अभी तक कोई पश्चिमी विक्षोभ भी नहीं आया है, जिससे पहाड़ों पर बर्फबारी की संभावना बनती है। बारिश होने से तापमान में कमी होती है। अभी उत्तर भारत में सनशाइन ज्‍यादा और मौसम बेहद शुष्‍क है, ऐसे में गर्मी देखने को मिल रही है।

अब पश्चिमी विक्षोभ के चलते होगी बारिश और बर्फबारी
उनका कहना है कि अब पांच से सात मार्च और नौ से 11 मार्च के बीच पश्चिमी विक्षोभ देखने को मिलेगा, जिससे पहाड़ों पर अच्छी खासी बर्फबारी हो सकती है। वहीं, पंजाब और हरियाणा में बारिश दर्ज की जा सकती है। उन्होंने कहा कि पहाड़ों पर बर्फबारी और कई राज्‍यों में बारिश का सीधा असर उत्‍तर भारत के मैदानी इलाकों में देखने को मिलेगा।

जिससे ठंडी हवाएं पहाड़ों से मैदानी इलाकों की ओर बहेंगी और तापमान में गिरावट देखने को मिलेगी। हालांकि मध्‍य और दक्षिण भारतीय राज्‍यों में मौसम बेहद शुष्‍क होने की वजह से पारे में कोई कमी नहीं आएगी। बल्कि यहां अधिकतम तापमान बढ़ने की संभावना जताई गई है।

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news