कोरोना से मरे लोगों की डेड बॉडी नहीं ले रहे उनके अपने, इस तरह हो रहा अंतिम संस्कार

नई दिल्‍ली. देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले 1.31 लाख तक पहुंच गए हैं. साथ ही देश में अब तक 3867 लोगों की जान कोविड 19 के कारण जा चुकी है. ऐसे में देश में कई लोग ऐसे हैं, जो कोरोना वायरस संक्रमितों की मौत के बाद उनकी डेड बॉडी भी नहीं ले रहे हैं. ऐसे में जयपुर के एक शख्‍स हैं विष्‍णु, जो कोरोना वायरस संक्रमितों की डेड बॉडी का अंतिम संस्‍कार कर रहे हैं. वह और उनकी टीम मिलकर अब तक 68 कोरोना संक्रमितों की मौत के बाद उनका अंतिम संस्‍कार कर चुकी है.

कोरोना वायरस संक्रमितों का अंतिम संस्‍कार करने के कारण विष्‍णु को भी कोरोना वॉरियर कहा जाता है. दरअसल, कोविड 19 से जंग में पहली पंक्ति में खड़े डॉक्‍टर्स और नर्स, पुलिसकर्मी, सफाईकर्मी को कोरोना वॉरियर कहा जा रहा है. ऐसे में विष्‍णु को भी कोरोना वॉरियर का दर्जा दिया गया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विष्‍णु के साथ उनकी पूरी बड़ी टीम कोरोना संक्रमितों की मौत के बाद उनका अंतिम संस्‍कार करने का काम करती है. विष्‍णु औेर उनकी टीम यह कार्य करने के लिए धर्म और जाति भी नहीं देखती है.

loading…