किसान आंदोलन के चलते बड़ी खबर: कांग्रेस के ये 2 बड़े नेता हुए नजरबंद, पूरी बात जानकर रह जाएंगे दंग

सिरसा: हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के फरीदाबाद पहुंचने की सूचना के बाद शहर में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा कर्मी तैनात हैं। कांग्रेस के विधायक नीरज शर्मा और पूर्व पार्षद व कांग्रेस नेता जगन डागर को पुलिस ने नजरबंद कर रखा है। पुलिस सूत्रों की मानें तो ऐसा कदम विरोध प्रदर्शन को देखते हुए उठाया गया है। दोनों ही नेता आज उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला को कार्यकर्ता के साथ काले झंडे दिखाना चाहते थे। इसका नेतृत्व कांग्रेस विधायक नीरज शर्मा को करना था। पुलिस को इसकी भनक पहले ही लग गई। जिसके बाद आनन फानन में दोनों नेताओं को पुलिस ने नजर बंद कर दिया।

अगले आदेश तक घर पर ही रहेंगे
बताया जा रहा है कि पूर्व पार्षद जगन डागर के निवास पर विधायक नीरज शर्मा को पुलिस ने नजरबंद किया है। यानी उन्हें जगन डागर के घर में पुलिस ने कैद कर दिया है। डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के कार्यक्रम में कोई बाधा न पहुंचे इसलिए विधायक नीरज शर्मा समेत कुछ स्थानीय नेताओं को घर में कैद कर दिया गया है। अब वे पुलिस की अनुमति के बिना अगले आदेश तक घर पर ही रहेंगे। माना जा रहा है कि चौटाला के शहर से जाने के बाद इन नेताओं को घर से बाहर जाने की अनुमति दी जा सकती है। इस मामले में अभी तक जो जानकारी सामने आई है।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को काले झंडे दिखाना चाहते थे
उसके मुताबिक कांग्रेस विधायक नीरज शर्मा और कांग्रेस कार्यकर्ता केंद्र के तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराने के लिए डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को काले झंडे दिखाना चाहते थे। कांग्रेस नेता डिप्टी सीएम का विरोध कर किसानों के मुद्दे पर उनका ध्यान आकर्षित करना चाहते थे। लेकिन पुलिस ने उन्हें ऐसा करने नहीं दिया।

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news