अभी अभीः देश में मानसून को लेकर आई बडी खुशखबरी, इस बार…

नई दिल्ली। मौसम विभाग ने कहा है कि दक्षिण पश्चिम मॉनसून के लिए 1 जून को परिस्थितियां अनुकूल हैं। यानी उम्मीद की जा रही है कि 1 जून को मॉनसून केरल पहुंच सकता है। ये इस आधार पर कहा जा रहा है कि दक्षिण पूर्व और पूर्वी केंद्रीय अरब सागर के ऊपर 31 मई के करीब कम दबाव बन सकता है।

गुरुवार के हिसाब से देखा जाए तो दक्षिण पश्चिम मॉनसून मालदीव की कुछ जगहों पर समय से पहले पहुंच रहा है। कोमोरिन इलाका, बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्से, अंडमान सागर के बचे हुए हिस्से और अंडमान निकोबार समूह में इसके जल्दी पहुंचने की संभावना है।

पश्चिम-मध्य और दक्षिण पश्चिम अरब सागर के ऊपर साइक्लोन के प्रभाव के चलते पश्चिम मध्य अरब सागर के ऊपर एक कम दबाव वाला एरिया बन गया है। उम्मीद है कि अगले 72 घंटों में ये उत्तर पश्चिम से दक्षिण ओमान और पूर्वी यमन तट की ओर बढ़ेगा।

मौसम विभाग के अलर्ट को देखते हुए केरल सरकार ने अरब सागर में मछली मारने पर बैन लगा दिया है। वहीं जो मछुआरे पहले से ही समुद्र में मछली मारने के लिए उतरे हैं, उन्हें भी आज रात तक वापस आने के लिए संदेशा भेज दिया गया है। जो लोग केरल तट पर नहीं पहुंच सकते हैं, उनसे कहा गया है कि वह जितना जल्दी हो सके अपने सबसे करीब से तट पर पहुंच जाएं। इससे पहले मौसम विभाग ने 6 जून को मॉनसून के पहुंचने का अनुमान लगाया था।

loading…