अभी अभीः दिल्ली से बड़ी खबर, किसानों ने बैठक में किया फैसला, लिया गया यह निर्णय

नई दिल्ली: केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ अभी भी किसानों का प्रदर्शन जारी है। कृषि विधेयक के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को दिल्ली जाने की इजाजत मिल गई है। पंजाब से दिल्ली आए किसानों को बुराड़ी के निरंकारी मैदान पर प्रदर्शन करने की अनुमति दे दी गई है। लेकिन अभी किसानों के एक गुट अपनी बात पर अड़ा हुआ है। इस गुट का कहना है कि सरकार का कोई प्रतिनिधी उनके बॉर्डर पर आकर बात करे। अभी भी बुराड़ी के निराकारी समागम ग्राउंड में किसानों का प्रदर्शन जारी है।

सिंधु बॉर्डर पर डटे किसान
आपको बता दें कि फिलहाल सिंधु बॉर्डर पर पंजाब के किसान डटे हुए हैं। अभी उन्होंने यहां से नहीं हटने का फैसला किया है। कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसान शनिवार सुबह सिंधु बॉर्डर पर बैठक की। इस बैठक में किसानों ने सीमा पर ही विरोध-प्रदर्शन जारी रखने का फैसला किया है। वहीं टिकरी बॉर्डर पर भी मौजूद किसानों का प्रदर्शन जारी है। हालांकि उन्होंने निर्धारित स्थल पर जाने को लेकर जल्द फैसला करने की बात कही है।

अब सरकार पर यकीन नहीं
प्रदर्शन में शामिल एक किसान ने बताया कि सिंधु बॉडर पर हुए बैठक में फैसला किया गया है कि वे वहां से नहीं हटेंगे और प्रदर्शन जारी रखेंगे। वहीं प्रदर्शनकारी किसानोंं का कहना है कि अब हम सरकार पर यकीन नहीं करते। पहले भी चर्चाएं हुईं, लेकिन कोई हल नहीं निकला। हम चाहते हैं कि सरकार इस कानून को वापस लें। वहीं ये भी बताया गया है कि बैठक में यह भी तय किया गया है कि किसान सिंधु बॉर्डर से नहीं हटेंगे और रोज सुबह 11 बजे मिलेंगे और अपनी रणनीति पर चर्चा करेंगे।

दिल्ली पुलिस ने जारी की एडवाइजरी
वहीं इस बीच दिल्ली पुलिस ने यात्रियों के लिए एडवाइजरी जारी की कि सिंधु बॉर्डर पर अभी भी दोनों ओर से रास्ते बंद हैं। कृपया वैकल्पिक मार्ग चुनें। गौरतलब है कि सिंधु बॉर्डर पर पंजाब के किसान संगठनों की मीटिंग चल रही थी, जिसमें यह तय किया जाना था कि किसान अपना प्रदर्शन यहीं से करेंगे या दिल्ली के बुराड़ी स्थित निराकारी समागम ग्राउंड में जाएंगे। मीटिंग के बाद किसानों ने यहीं से अपना प्रदर्शन जारी रखने का फैसला किया है।

ये भी पढेंः खबरें हटके

big news