अभी अभीः ट्रक देखकर लगा कुछ अजीब, खुलवाया तो फट गई पुलिसवालों की आंखें

जोधपुर। राजस्थान में जोधपुर की ग्रामीण पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान एक ट्रक से 45 लाख रुपये की राशि बरामद की है। ट्रक चालक व एक अन्य के द्वारा इस बारे में संतोषप्रद जवाब नहीं मिलने से दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही, ट्रक को भी सीज कर दिया गया है। पुलिस ने इतनी बड़ी राशि नकद मिलने पर आयकर विभाग के अधिकारियों को भी इत्तला दी है। पोकरण से पंजाब जाने वाले मार्ग के मध्य बाप कस्बा मेगा हाईवे पर की गई नाकेबंदी के दौरान जोधपुर नंबर के एक मिनी ट्रक के केबिन से येे नकद राशि बरामद की गई है। ग्रामीण पुलिस अधीक्षक राहुल बारहठ ने बताया कि पंचायत चुनावों के मद्देनजर जिले में मादक पदार्थों की तस्करी व अवैध हथियारों की धरपकड़ के लिए नाकाबंदी के साथ वाहनों की सघन चेकिंग चलाई जा रही है।

वहीं, इस रूट पर अधिकांश शराब तस्कर पंजाब निर्मित शराब को गुजरात पहुंचाने के लिए प्रयोग करते हैं। पंचायत चुनावों के मद्देनजर नाकाबंदी और सघन तलाशी अभियान भी जारी है। जिसके तहत नाकाबंदी में बाप कस्बा मेगा हाईवे पर पोकरण से पंजाब की तरफ जा रहे एक के केबिन से 45 लाख रुपये बरामद किए हैं। चालक द्वारा सही जवाब नहीं दिए जाने पर रुपयों को सीज करने के साथ आयकर विभाग अधिकारियों को सूचना दी गई है। इस पर ट्रक चालक पंजाब के भटिंडा निवासी जसवंत सिंह उर्फ शांता सिंह पुत्र लाल सिंह व खलासी रणदीप सिंह उर्फ राजू से पूछताछ की गई। गाड़ी चेक करने पर चालक केबिन में छुपाकर रखे 44 लाख 93 हजार 340 रुपये मिले। इन रुपयों के संबंध में पूछताछ करने पर संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए। पूछताछ में इन्होंने तंबाकू उत्पाद की बिक्री की एवज में इस राशि को मिलना बताया, लेकिन इनके पास इस संबंध में कोई कागज या दस्तावेज नहीं मिल सके।

ट्रक चालक के जवाबों से असंतुष्ट होकर पुलिस ने ट्रक को जब्त कर लिया और दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। राशि भी जब्त की गई है। जब्त राशि 500 और 2000 के नोटों में है। गिरफ्तार चाक और खलासी से आगे की पूछताछ की जा रही है। इसके साथ ही आयकर विभाग के अधिकारियों को भी इस संबंध में जानकारी भेजी गई है। साथ ही, ट्रक से संबंधित लोगों के बारे में पूछताछ कर इत्तला करने की कार्रवाई जारी है।

loading…