• छाप डाले 2 हजार वाले 93 लाख के नकली नोट, ऐसे पकडे गए

    item-thumbnail  कानपुर। कानपुर देहात के पुखराया कस्बे में पुलिस ने नकली नोट छापने वाले गिरोह के पास से 76 लाख रुपए के नकली नोट बरामद किए हैं। पुलिस ने गिरोह के सरगना विजय पाल और उसके एक साथी को भी गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इन लोगो के पास से 19 हजार के असली नोट जो अब चलन में नहीं है, वो भी बरामद किया है। एसपी कानपुर देहात प्रभाकर चौधरी ने यह जानकारी दी।
     बरामद किए गए 2000 और 500 के नकली नोटों में कंप्यूटर तकनीक का बखूबी इस्तेमाल किया गया है। नकली नोटों की प्रिंटिंग काफी उम्दा है। कानपुर देहात के भोगनीपुर इलाके के पुखरायां कस्बे से पुलिस ने एक घर में छापा मार कर 2000 रुपए के नकली नोट बनाने वाले एक गिरोह को पकड़ा था। उस समय पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया था और 7 लाख 64 हजार रुपए के नकली नोट बरामद किए थे।
     पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला था कि गिरोह का मास्टरमाइंड कानपुर का रहने वाला विजय पाल है। पुलिस तब से विजय पाल की तलाश में थी। कल पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर विजय पाल और उसके एक साथी मान सिंह को पुखरायां के पटेल चौक से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने विजय के पास से 66 लाख के 2000 के नकली नोट, 10 लाख कीमत के 500 रुपए के नकली नोट बरामद किए हैं। इसके अलावा पुलिस ने इनके पास से करीब 19 हजार के पुराने असली नोट जो अब चलन में नहीं हैं, वे भी बरामद किए हैं। पुलिस के अनुसार 4 जनवरी को 7 लाख 64 हजार रुपए बरामद हुए थे जिसमे 3 लोग गिरफ्तार किए गए थे। आरोपियों से पूछताछ में एक व्यक्ति का और नाम आया था। यह पता चला था कि करीब 93 लाख रुपए के नोट छापे गए थे। पुलिस अब इन दोनों को जेल भेज रही है।



    Last Updated On: 2017-01-09 15:32:46