• सलमान को उठा-उठाके पटकूंगा-स्वामी ओम

    item-thumbnail  हाल ही में बिग बॉस के घर से स्वामी ओम बाहर निकले या कहें कि बिग बॉस ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया है। बाबा के प्रवचन रुकते कहां थे? काश कि ये प्रवचन सुनने लायक भी होते। किसी की मां मरने की बददुआ देना या अपने साथी घरवालों पर अपनी पेशाब फेंकना जैसे भद्दे काम करने के लिए ये बाबा बदनाम हो गए। अब तो उन्हें सलमान की डांट का भी डर नहीं, इसलिए जो जी में आता, वो कहते जाते। क्या आपको पता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी दाढ़ी क्यों रखते हैं? कौन है वो शख़्स जिसने आज देश के सबसे कद्दावर नेता को प्रधानमंत्री बनवाया? क्या आप जानना चाहेंगे कि किस बड़ी नेता ने हाल ही में किसे हवाला के ज़रिए पैसा विदेशों में भिजवाया है? ये सब जानते हैं स्वामी ओम। स्वामी ओम के फ़िल्मी दुनिया के कनेक्शन तो आप जान ही गए हैं, अब जानिए उनकी डींगों के ज़रिये उनके पॉलिटिकल कनेक्शन को। एक इंटरव्यू में स्वामी ओम ने इस तरह से जवाब दिये|
    स्वामी ओम आपने हाल ही में कहा है कि आप बिग बॉस का फिनाले नहीं होने देंगे?
    28 जनवरी को में एक लाख लोगों को ले कर बिग बॉस के घर में पहुंच रहा हूं। मैं स्टेज पर पहुंच कर सलमान की हड्डियां तोड़ दूंगा। उसको पटक-पटक कर मारूंगा। उसकी सुल्तानगिरी मैं निकालूंगा पब्लिक के सामने। बिग बॉस के घर में आग लगा दूंगा। बिग बॉस ने सलमान को घर के अंदर भेजा था, शायद बिग बॉस के लोग भी चाहते थे कि मैं सलमान का घमंड तोड़ कर चूर-चूर कर दूंगा। सलमान हैं कट्टर मुसलमान और बिग बॉस के घर में जितने भी लोग हैं वे सीआईए के एजेंट्स हैं।
    आपकी इतनी दुश्मनी कैसे हो गई?
    मैं जब दो जनवरी को पटियाला हाउस में आया था, तो मालूम पड़ा कि सोनिया गांधी ने बिलियन डॉलर्स बिग बॉस के असली मालिक, जो गंजे से हैं, मराठी हैं, अमेरिका में रहते हैं, उन्हें भेजे हैं कि किसी भी तरह से स्वामी ओम को घर के बाहर निकालो। मैंने ये कहा था 2 जनवरी को कि किसी ना किसी तरह से मुझे तीन दिन के अंदर बिग बॉस के घर से बाहर निकाल दिया जाएगा और वही हुआ भी।
    आपको ये कैसे मालूम पड़ता था कि आपके पीछे ये सब हो रहा है?
    मैं अपने केस की वजह से पटियाला हाउस आता जाता रहा हूं। वहां आईबी का एक बहुत ही बड़े ऑफ़िसर, जो मेरे दोस्त भी हैं और भक्त भी हैं, ने बताया। जिन दिनों मैं इंदिरा गांधी के घर में रहता था वह उन दिनों से मेरा दोस्त है और अब रिटायर भी होने वाले हैं। उन्होंने कहा कि आईबी के पास सबूत भी हैं कि सोनिया गांधी ने बिलियन्स डॉलर्स बिग बॉस को हवाले के
    ज़रिये दिए हैं।
    आप उनका नाम बताना चाहेंगे जो आपके भक्त भी हैं और आईबी के अधिकारी भी?
    नहीं। मैं नाम नहीं बता सकता हूं। मुझे उनके पेंशन का पैसा ख़राब नहीं करना है। वे देशभक्त ऑफ़िसर हैं और प्रधानमंत्री उन्हें जानते हैं। मैं तो प्रधानमंत्री से मिला भी हूं। मैं जिस होटल में रुका था 1 जनवरी की रात, वो वित्तमंत्री के घर उसके पास ही था। वित्तमंत्री के घर मैं गया हूं और उनको ले कर प्रधानमंत्री के घर गया हूं। कोर्ट में अगले दिन पेश होने के पहले मैं कई कैबिनेट मिनिस्टर्स से मिला हूं। मुझे भी उन मिनिस्टर्स ने ये जानकारी दी है। मैंने मिनिस्टर्स की बातों पर यकीन नहीं किया था क्योंकि ये कभी झूठ भी बोल सकते हैं, लेकिन आईबी का एक ऑफ़िसर झूठ नहीं बोल सकता है। वैसे बिग बॉस वाले मुझे ये कह कर भी निकाल सकते थे कि मुझे वोट कम आए हैं, लेकिन मुझे हर हफ़्ते सबसे ज़्यादा वोट मिले हैं, लेकिन वोट तो बिग बॉस को लिए भी कोई मायने नहीं रखते हैं। ये सब एक नाटक है।
    आपका दावा है कि भारतीय जनता पार्टी के बहुत करीब हैं। आपके बारे में कुछ और जानना चाहती हूं।
    मैं बीजेपी से पहले कांग्रेस के करीब रहा हूं। मैं इंदिरा गांधी के घर रहा हूं। वे मेरी शिष्या थीं और मैं उनका तांत्रिक था। इंदिरा गांधी अपने जीवन में जो कुछ बनी, वो मेरी बदौलत बनी हैं। ये मैं नहीं कहता हूं वो ख़ुद अलग-अलग देशों में जा कर वहां के राष्ट्राध्यक्षों से कहती थीं। उसके बाद नरेंद्र मोदी को मुख्यमंत्री मैंने बनाया था और ये नरेंद्र मोदी का बयान है। जब वाजपेयीजी ने नरेंद्र मोदी को फोन कर कहा कि तुम कहाँ हो, तो नरेंद्र मोदी ने कहा कि मैं स्वामी ओम के साथ श्मशान में बैठा हुआ हूं। वाजपेयीजी ने पूछा किसलिए, तो नरेंद्र मोदी ने कहा क्योंकि मैं गुजरात का मुख्यमंत्री बनना चाहता हूं। वाजपेयीजी ने कहा तुम्हारी और स्वामी ओम की साधना पूरी हुई, तुम गुजरात के चीफ़ मिनिस्टर बन गए। नरेंद्र मोदी जो दाढ़ी रखते हैं तो वो मोदीजी की देन नहीं है। मोदीजी आरएसएस में थे तब से मेरे मित्र हैं। वे मेरे साथ हरिद्वार और ऋषिकेश में साधना करते थे। वे तो ख़ुद आधे तांत्रिक हैं और इसीलिए अच्छा काम कर रहे हैं। मेरा और उनका जो संपर्क रहा इसी वजह से वे आज देश के प्रधानमंत्री हैं और अभी तक के सबसे बेहतरीन प्रधानमंत्री हैं। मैं जीवन की आखिरी सांस तक काम करता रहूंगा। मैंने उनके लिए कैंपेनिंग की है। मैं मिला हूं उनके लिए उद्य़ोगपतियों से कि वो मोदीजी को पैसा दें। आरएसएस के चीफ़ मोहन भागवत से बात की थी मैंने। वे तो आडवाणीजी को लाना चाहते थे। मैंने उनको कहा था कि आडवाणी उनके लिए कुछ भी नहीं हैं। जिस वक़्त मैं आरएसएस चीफ़ से बात करने गया था तब अंबानी और अडानी भी मेरे साथ गए थे। पैसे की बात मैंने की कि खरबों रुपए जो लगेंगे वो ये लोग खर्चा करेंगे। मुझे गर्व है इस बात के लिए कि मैंने इस देश के लिए मोदीजी जैसा प्रधानमंत्री दिया।
    आप किस आश्रम से हैं, शैव या उदासीन या कोई और संप्रदाय है आपका?
    मैं जूना अखाड़ा का हूं। तापस्वी जी मेरे मित्र हैं और तारा जगतगुरुजी शंकराचार्य मेरे गुरुभाई हैं। 1980 में ज्योतिषपीठ का शंकराचार्य मुझे बना रहे थे। चूंकि उस समय संजय गांधी मेरे साथ हरिद्वार में थे और उस समय हरिद्वार में अर्द्ध कुंभ चल रहा था। मेरे शंकराचार्य बनने की सारी तैयारी हो चुकी थी। संजय गांधी ने मुझे कहा कि अगर आप शंकराचार्य बन जाएंगे तो सारे मुल्क के एक बड़े भाग के वोट चले जाएंगे, इसलिए मैं शंकराचार्य नहीं बना। मैंने तो अपने देश के लिए बहुत कुर्बानियां दी हैं। बिग बॉस के लिए मैंने बहुत कुछ खोया है। ये जो बिग बॉस चल रहा था वो सलमान की वजह से नहीं या इन रंडे- रंडियों की वजह से नहीं बल्कि मेरी वजह से चल रहा था। मैं सड़क पर चला जाता हूं तो ट्रैफ़िक जैम हो जाता है और इनमें सिर्फ़ वृद्ध लोग नहीं बल्कि युवक और युवतियां भी हैं। मेरा घर के बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। मैं नोएडा जाता हूं तो रात को चुपचाप निकलता हूं। लोगों का इतना प्यार है। बिग बॉस की टीआरपी ख़त्म हो गई है। शो ख़त्म हो गया है।



    Last Updated On: 2017-01-11 11:54:28