• इन 5 जगह जूते-चप्पल पहनकर जाने से बढता है दुर्भाग्य

    item-thumbnail शास्त्रों में 5 ऐसी जगहों के बारे में बताया गया है, जो कि बहुत ही पवित्र मानी जाती है।
    उन जगहों पर जूते-चप्प्ल पहनकर जाना बड़ा अशुभ माना जाता है।
    ऐसा करने से हमें दुःखों और परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।
    इसलिए ध्यान रखें इन 5 जगह पर जाते समय जूते या चप्पल न पहनें।
    तिजोरी के पास :
    तिजोरी से सामान रखते या निकालते समय भी जूते-चप्पल उतार देने चाहिए।
    इस बात का ध्यान रखने से देवी लक्ष्मी की कृपा हमेशा बानी रहती है।
    भंडार घर :
    भंडार घर में जूते-चप्पल का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
    जो व्यक्ति इस बात का ध्यान रखता है उसके घर में कभी भी अन्न की कमी नहीं होती।
    रसोई घर :
    अन्न और अग्नि दोनों को ही देव-तुल्य माना जाता है।
    इसलिए, रसोई घर में जाते समय जूते-चप्पल पहनना गलत माना जाता है।
    ऐसा करने से अन्न और अग्नि हमसे रूठ जाते है।
    पवित्र नदी :
    पवित्र नदियों में स्नान करने से पहले जूते-चप्पल या चमड़े से बनी वस्तुएं उतार देनी चाहिए।
    जूते-चप्पल के साथ नदी में प्रवेश करना पाप माना जाता है।
    मंदिर :
    मंदिर में जूते-चप्पल पहन कर जाने से देवी-देवता रुठ जाते है।
    इसलिए भूलकर भी मंदिर में जूते-चप्पल से प्रवेश नहीं करना चाहिए।



    Last Updated On: 13-11-16 09:05:29