• लडके पटा-पटाकर करोडपति बन गई शादीशुदा लडकी, अनजान था पति

    item-thumbnail  जयपुर| हाईप्रोफाइल लोगों को दुष्कर्म के मामले में फंसाकर करोड़ों रुपए वसूलने वाली ब्लैमेलिंग गैंग से जुड़ी एनआरआई युवती रवनीत कौर को एसओजी ने गिरफ्तार कर लिया। युवती ने एक साल में सात लोगों से 4 करोड़ रुपए वसूलने की बात कबूली है। गैंग से जुड़े 9 बदमाश अब तक गिरफ्तार किए जा चुके हैं। आरोपी युवती को गुरुवार को कोर्ट में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया गया है। युवती ने प्रारंभिक पूछताछ में कबूल किया कि उसने गैंग के साथ मिलकर सात लोगों को फंसाया और उनसे करीब 4 करोड़ रु. ऐंठे। इन सातों केसों में उसे महज 10 लाख रु. दिए गए। गैंग से जुड़े लोग लोगों से पैसा वसूलने के लिए उसे भी धमकाते थे। इस बीच, विवाद हुआ और उसने एक साल बाद ही गैंग को छोड़ दिया और कोटा जाकर रोहित से शादी कर ली। उसने कोटा में एक नामी कोचिंग सेंटर में रिसेप्शनिस्ट की नौकरी ज्वाइन कर ली। रवनीत के कारनामों की उसके परिजनों और ससुराल पक्ष को भी जानकारी नहीं थी। पुलिस ने बताया कि युवती द्वारा दी गई जानकारी की तस्दीक के लिए उसे अन्य आरोपियों के आमने-सामने बैठाकर पूछताछ होगी। एडिशनल एसपी करण शर्मा ने बताया कि रवनीत कौर (27) हांगकांग में पैदा हुई थी। उसके पिता फरीदकोट (पंजाब) के हैं। वे व्यवसाय के लिए हांगकांग गए और भारतीय मूल की नागरिक से वहीं शादी कर ली। रवनीत 2008 में अपनी दादी के पास जालंधर में रहने आई और इसके बाद हांगकांग नहीं गई। उसने 2012 में जयपुर की एक यूनिवर्सिटी में तीन साल के बीबीए कोर्स में एडमिशन लिया। उसी यूनिवर्सिटी में एमबीए कर रहे कोटा निवासी रोहित से उसकी दोस्ती हो गई। रवनीत ने दो साल बाद ही बीबीए छोड़ दिया था। इस बीच, नौकरी की तलाश में उसकी इस गैंग से जुड़े अक्षत शर्मा उर्फ सागरपुरी से रवनीत की जान-पहचान हुई। वह गैंग में शामिल होकर सिरसी रोड स्थित अक्षत शर्मा के बगल के फ्लैट में रहने लगी। एक साल तक एडवोकेट नितेश बंधु, नवीन देवानी, अक्षत शर्मा, विजय और आनंद शांडिल्य के साथ हाइप्रोफाइल लोगों को फंसाकर रुपए वसूलने लगी।




    Last Updated On: 2017-01-06 10:44:30